खबर का बड़ा असर: श्रीजी वेयर हाउस कांड में तीन पर मामला दर्ज, सर्वेयर का पक्ष सुने बिना बना दिया आरोपी | KOLARAS, SHIVPURI NEWS

कोलारस। आज शिवपुरी समाचार की खबर का बडा असर हुआ है। लगातार खबरें प्रकाशन के बाद हरकत में आए प्रशासन ने लगातार प्रकाशित हो रही खबर को के बाद आज इस मामले में समिति प्रबंधक,वेयर हाउस मालिक सहित सर्वेयर पर धोखाधडी,साक्ष्य मिटाने सहित कई धाराओं में मामला दर्ज कर विवेचना मेें ले लिया है। इस मामले में प्रशासन की ओर से फरियादी पीयूश माली डीएम नान को बनाया है।

विदित हो कि इस मामले को शिवपुरी समाचार डॉट कॉम ने सबसे पहले प्रमुखता से उठाया था। इस मामले की खबरें प्रकाशित होने के बाद एसडीएम आईएएस आशीष तिवारी मौके पर पहुंचे और प्रकाशित खबर के आधार पर जब वेयर हाउस की जांच की तो वहां धांधली का अंभार लगा मिला। श्रीजी बेयर हाउस में वेहटा सोसाईटी प्रबंधक लक्ष्मण रावत सरेआम चने में बजरी मिलाकर शासन को चूना लगा रहा था।

जब एसडीएम ने इस चने को एफएक्यू करने बाली कंपनी नेफेड के सर्वेयर सुनील शर्मा का पता किया तो सामने आया कि तोल बंद होने के चलते वह चला गया। उक्त जो माल की धांधली चल रही थी उसमें वह उपस्थिति नहीं था। जब प्रशासन ने उक्त चने की एफएक्यू की पर्ची मांगी तो सोसाईटी प्रबंधक वह पर्ची भी नहीं दे सका।

बताया जा रहा है कि इस मामले में प्रशासन ने समिति प्रबंधक लक्ष्मण रावत,वेयर हाउस संचालक रोहित बिंदल के तो वयान दर्ज कर लिए। परंतु इस मामले में सर्वेयर को अपना पक्ष तक रखने का मौका नहीं दिया। सर्वेयर का आरोप है कि उसने इस संबंध में डिप्टी कलेक्टर और जांच अधिकारी पल्लवी वैध् के सामने अपना पक्ष रखने की बात कही थी। परंतु डिप्टी कलेक्टर ने जरूरत होने पर बुला लेने का आश्वासन दिया था। लेकिन उसके बाद आज बिना सर्वेयर का पक्ष जाने पुलिस ने इस मामले में तीनों को आरोपी बनाते हुए धारा 420,120 बी 418, 272, 273, 34 ता,हि के तहत मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया है।