Ads 720 x 90

LightBlog

बिरथरे के बयान पर बवाल: राजे के पक्ष में उतरे जिला अध्यक्ष रघुवंशी, बोले पार्टी की व्यवस्था के अनुसार यशोधरा राजे कर रही है काम

शिवपुरी। बीते रोज प्रेस बार्ता मेें पूर्व विधायक और लोकसभा प्रभारी नरेन्द्र विरथरे द्धारा राजे को ढूढने की बात कहने के मामले में अब राजे के पक्ष में पार्टी के जिलाध्यक्ष उतर आए है। इस मामले में सुशील रघुवंशी ने राजे का पक्ष रखते हुए कहा है कि वह पार्टी की व्यवस्था के अनुरूप ही लोकसभा चुनाव में काम कर रही है। पार्टी ने उन्हें ग्वालियर लोकसभा चुनाव की जिम्मेदारी सौंपी है। जिसके चलते वह पोहरी में भी प्रचार करने आई थी। अब यह कहना गलत है कि उन्हें तलाश रहे है। इस मामले को सोशल मीडिया पर उठाने की भी जिलाध्यक्ष ने निंदा करते हुए कहा कि कार्यकताओं को अपनी सीमाओं में रहना चाहिए। इस तरह के कार्यो से पार्टी को लोकसभा चुनाव में नुकसान होने की आशंका है। 

विदित हो कि बीते रोज भारतीय जनता पार्टी की पत्रकारवार्ता में पूर्व विधायक नरेन्द्र विरथरे,पूर्व राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त राजू बाथम भाजपा जिला उपाध्यक्ष हेंमत ओझा ने पत्रकार बार्ता का आयोजन किया। पत्रकार बार्ता में जब मीडिया ने सबाल पूछा कि इस चुनाव से स्थानीय विधायक दूरी बनाए हुए है। तो उन्होंने जबाव दिया कि उन्हें वह भी ढूढ रहे है। इस मामले को सबसे पहले वीडियों सहित शिवपुरी समाचार ने अपने पाठकों तक पहुंचाया। बस फिर क्या था मामला तूल पकड गया। और इस मामले में तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अजीत जैन ने सोशल मीडिया पर पोस्ट डालते हुए इस बयान की कडी निंदा की। 

इसके बाद तो भाजपा में बबाल मच गया और अजीत जैन पर पोस्ट डिलीट करने का पार्टी के बरिष्ट नेताओं ने दबाव डाला। लेकिन अजीत जैन अपनी बात से पीछे नही हटें और उन्होंने कहा कि इस चुनाव में प्रचार करने के बाद भी यशोधरा राजे पर आरोप लगाया जा रहा है। सूत्रों की माने तो इस मामले में भाजपा के संगठन से जुडे एक पदाधिकारी ने अजीत जैन की पोस्ट पर कडी आपत्ति जताते हुए कहा कि यदि उन्हें नरेन्द्र बिरथरे से कोई शिकायत थी तो पह इसकी पार्टी फोरम में लिखित शिकायत करते न कि सोशल मीडिया पर जाकर पार्टी के अनुशासन की धज्जियां उडाते। बताया गया है कि इस मामले में भाजपा ने श्री बिरथरे से भी जवाब तलब किया है,लेकिन अब बिरथरे का कहना है कि उन्होंने यशोधरा राजे के बारे में कोई बात नही कही है। 

इनका कहना है
यशोधरा राजे पार्टी की वरिष्ठ और सम्मानीय नेता है पार्टी हितों के विपरीत वह कीाी काम नहीं करती है। लोकसभा चुनाव में कहां किसे काम करना है यह पार्टी द्धारा व्यवस्था बनाई जाती है। इस लोकसभा चुनाव में यशोधरा राजे को ग्वालियर लोकसभा सीट पर प्रचार का जिम्मा सौंपा गया है। जिसे वह निर्वहन करते हुए राजे पांच दिन पहले ही पोहरी विधानसभा में आई थी और उन्होने जनसभाओं को संबोधित किया था। ऐसी स्थिति में पार्टी नेता द्धारा यह कहा जाना कि हम भी उन्हें ढूंढ रहे है गलत है। वही सोशल मीडिया पर भी एक भाजपा नेता ने पोस्ट डाली है वह भी उचित नही है। इस पूरे घटनाक्रम की पार्टी की प्रादेशिक इकाई को जानकारी है। इसलिए निर्णय उपरी स्तर से होगा। 
सुशील रघुुवंशी,जिलाध्यक्ष भाजपा शिवपुरी

यह आरोप गलत है कि मेंने भाजपा के बरिष्ठ नेत्री और हम सबके सम्मान की पत्र यशोधरा राजे सिंधिया के सम्मान के विपरीत कोई बात कही है। पूरी पत्रकार वार्ता में मैने उनके नाम का कही उल्लेख तक नहीं किया। हां इतना अवश्य है कि एक पत्रकार ने पूछा था कि चुनाव निपट गय है,योगी आदित्यनाथ जी भी आ गए,लेकिन यशोधरा राजे हीं नही दिख रही तो मेंने सिर्फ यह कहा कि हम भी उन्हें ढूंढ रहे है। मेरे हिसाब से मेरा इतना कहना अनुशासन हीनता की परिधि में नहीं आता। जहां तक भाजपा नेता की पोस्ट का सबाल है तो में उनकी अनुशासनहीनता की पार्टी को शिकायत कर रहा हूं तथा उनके खिलाफ कार्यवाही की मांग करूंगा। उन्होने मेरे बक्तब्य को तोड मरोड कर पेश किया है। 
नरेन्द्र बिरथरे,पूर्व विधायक एवं प्रभारी लोकसभा प्रभारी 

Related Posts

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter