SHIVPURI NEWS - हरदा हादसे का शिवपुरी में भी असर, फटाखा फैक्ट्रियो का निरीक्षण

Bhopal Samachar
शिवपुरी। मध्य प्रदेश के हरदा जिले में मंगलवार सुबह बैरागढ़ गांव स्थित पटाखा फैक्ट्री में भीषण आग लग गई। थी इसके बाद मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने मध्य प्रदेश के सभी जिले के अधिकारियों को जिले में स्थित पटाखा फैक्ट्रियों के निरीक्षण करने के लिए निर्देश दिये थे इसी कडी मे आज शिवपुरी जिला प्रशासन ने भी कई पटाखा फैक्ट्रियों के निरीक्षण किये है। उल्लेखनीय गैस के लिए मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने शिवपुरी कलेक्टर को निर्देशित किया था।

जिला प्रशासन ने मिल कर बुधवार को जिले के सभी कस्बों में मौजूद पटाखा फैक्ट्री का निरीक्षण किया है। शिवपुरी में राजस्व और पुलिस की टीम ने आतिशबाजी गोदामों व फैक्ट्रियों का निरीक्षण किया तथा आवश्यक दिशा निर्देश गोदाम संचालक को दिए। सभी एसडीएम, तहसीलदार और नायब तहसीलदार ने अपने अनुविभाग अंतर्गत क्षेत्र में स्थित आतिशबाजी गोदामों का निरीक्षण कर दिशा निर्देश जारी किये है। शिवपुरी एसडीएम अनूप श्रीवास्तव ने शिवपुरी के टुकडा नंबर दो में फैक्ट्री संचालक विनोद कोहली की फैक्ट्री का निरीक्षण किया था वह फैक्ट्री बंद पाई गई थी फैक्ट्री में कोई निर्माण कार्य नहीं किया जा रहा था।

कलेक्टर ने यह दिये निर्देश

शिवपुरी कलेक्टर रविन्द्र कुमार चौधरी ने जिले के सभी एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार और पुलिस विभाग को अलग अलग क्षेत्रों में संचालित अलग अलग फैक्ट्रियों ने निरीक्षण करने के निर्देश दिये थे जिस पर कार्यवाही करते हुए जिले के सभी अधिकारियों ने अपने अपने क्षेत्र में निरीक्षण किया है। साथ ही गोदाम और फैक्ट्री संचालकों को सावधानी बरतने के दिशा निर्देश दिये है।

यह हुआ था मंगलवार को हादसा

मध्य प्रदेश के हरदा जिला मुख्यालय से तीन किलोमीटर दूर बैरागढ़ गांव स्थित पटाखा फैक्ट्री में मंगलवार सुबह भीषण आग लग गई। करीब 45 मिनट तक रह-रह कर धमाके होते रहे। धमाके इतने जोरदार थे कि वहां मौजूद लोहे के उपकरण और कंक्रीट करीब दो सौ मीटर की परिधि में उछले। इससे भी तमाम लोग घायल हो गए। इस हादसे में 11 लोगों की मौत हो गई है।

जबकि 172 लोग घायल हुए। जिन्हें विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। इसमें 48 लोगों को प्राथमिक उपचार के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है। मृतकों में कई के चीथड़े उड़ गए। घटनास्थल से काफी दूर तक मानव अंग जहां-तहां बिखरे दिखे। भीषण आग व विस्फोट की चपेट में आसपास के एक दर्जन से ज्यादा मकान आए।

अलग अलग दिये थे निर्देश

कलेक्टर साहब ने हमें अलग अलग क्षेत्र में संचालक फैक्ट्रीयो के निरीक्षण करने के निर्देश दिये थे। में तो शिवपुरी टुकडा नंबर दो में गया था वहां पर कोई अनियमितता नहीं मिली थी।
अनूप श्रीवास्तव एसडीएम शिवपुरी
G-W2F7VGPV5M