SHIVPURI NEWS - ट्रको के साथ थमे पब्लिक ट्रांसपोर्ट के पहिए,परेशान हुई जनता,शोर्ट होंगी आवश्यक वस्तुए

Bhopal Samachar
शिवपुरी। हिट एंड रन कानून का विरोध अब राष्ट्रीय राजमार्ग से होते हुए अब शहर की सडको पर भी दिखाई देने लगा है। देश के कई राज्यों में ट्रकों के पहिए थम चुके है वही इसी क्रम में बस आपरेटर ने इस आंदोलन में कदम ताल शुरू कर दी है। बीते सोमवार जिले की 200 बसो की पहिए थम गए जिससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पडा। शहर में आटो तक का रोक दिया जिससे शहर में आने जाने वाले लोगों को भी दिक्कत हुई है।

सोमवार को बस ऑपरेटर ने अपना विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। एक भी बस ना तो शिवपुरी से गुना ग्वालियर की ओर रवाना हो सकी और ना ही किसी अन्य जगह से शिवपुरी बस आई। जिसके चलते यात्रियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। खास बात यह रही की पोहरी बस स्टैंड और मेडिकल कॉलेज के पास बस चालकों ने हंगामा मचाया और वाहनों को रोका भी, कुछ ऑटो की हवा भी निकाली। लेकिन उन्होंने यात्रियों को एक स्थान से दूसरे स्थान तक नहीं जाने दिया।

अब बस ऑपरेटर के साथ-साथ ट्रक चालक यूनियन से जुड़े हुए चालकों ने मंगलवार को भी विरोध प्रदर्शन जारी करने की चेतावनी दी है। हालांकि प्रशासन ने समझाइश बैठक लेकर ट्रक और बस आपरेटर यूनियन को कहा है कि वह चालकों को समझाएं ताकि हालात न बिगड़े। वही ट्रांसपोर्ट यूनियन से कहा कि वह यातायात बहाल रखें।

ड्राइवर से उन्होंने कहा कि धरना प्रदर्शन करके भी वह अपनी बात दिखा सकते हैं, इस तरह से वाहन ना चला कर तो वह पूरे यातायात व्यवस्था को ही बिगाड़ देंगे। ऐसे में इस पर गंभीरता से विचार करने को कहा। जिस पर चालकों ने कोई आश्वासन तो नहीं दिया लेकिन माना जा रहा है कि आज मंगलवार को भी वह काम पर नहीं आएंगे। हालांकि प्रशासन ने उन्हें मनाने की जिम्मेदारी फिलहाल ट्रक ऑपरेटर यूनियन और बस ऑपरेटर यूनियन को दी है।

ऐसे समझे शहर के हालातों को
आमतौर पर ग्रामीण क्षेत्र से ऑटो और अन्य साधनों से सब्जियां, दूध आता है। ऐसे में बसें चल नहीं रही और यदि ऑटो चालकों की भी हड़ताल शुरू हो गई और उन्हें भी बस आपरेटर, ड्राइवर यूनियन ने आने नहीं दिया तो फिर हालात बिगड़ेंगे।

डीजल पेट्रोल पंप संचालक-जब तक उपलब्ध है उपभोक्ताओं को देंगे
डीजल पेट्रोल संगठन के प्रमुख समीर गांधी ने बताया कि अभी तो हमारे पास स्टॉक है, हड़ताल के चलते यदि वह प्रभावित होती है तो फिर कैसे हम उपभोक्ताओं को दे सकेंगे। हालांकि प्रशासन ने कहा है कि वह सुविधा मुहैया करा रहे हैं,अगर यह विरोध लंबा चला तो सबसे आवश्यक डीजल पेट्रोल शोर्ट होगा इससे जनजीवन पर असर पडेगा।

शिवपुरी से गुना ग्वालियर जाने के लिए एकमात्र साधन अब ट्रेन बची है। लेकिन वह भी सिर्फ सुबह, शाम है। इस वजह से यात्रियों को दिनभर आवागमन के लिए परेशान होना पड़ेगा। यही नहीं गुना ग्वालियर के ट्रैक पर तो यात्री चला जाएगा लेकिन पिछोर, खनियाधाना, चंदेरी, झांसी, पोहरी, आने जाने का कोई साधन नहीं है। ना यहां पर ट्रेन है, ऐसे में यहां आने जाने वाले यात्रियों के लिए बड़ी समस्या खड़ी होने वाली है।

10 साल की सजा और जुर्माने को लेकर ड्राइवर भयभीत हैं
इस ढंग से सरकार नियम लागू कर रही है, यह ड्राइवर के हित के अनुकूल नहीं है। इसलिए वह हड़ताल कर रहे हैं। सरकार को चाहिए कि वह ड्राइवर की सुनवाई करें, ताकि व्यवस्था फिर से बहाल हों। सोमवार को तो एक भी बस नहीं चली, मंगलवार को भी चालक काम करने से मना कर रहे हैं।
मुकेश सिंह चौहान, प्रमुख पदाधिकारी

बस आपरेटर यूनियन, शिवपुरी कोई भी कानून हाथ में न ले
हमने व्यवस्था बनाने के लिए ही सोमवार को कलेक्ट्रेट में शाम 4 बजे बैठक ली थी। जिसमें ट्रक ऑपरेटर यूनियन के साथ-साथ बस आपरेटर, पेट्रोल पंप ड्राइवर यूनियन सभी पदाधिकारी को बुलाया था, और उनसे कहा है कि वह व्यवस्था बनाने में सहयोग करें पेट्रोल डीजल को लाने ले जाने के लिए हम व्यवस्था बना रहे हैं। कानून अपने हाथ में न ले।
रवींद्र कुमार चौधरी,कलेक्टर शिवपुरी
G-W2F7VGPV5M