SHIVPURI NEWS - किराना व्यवसाई पंकज जैन के घर में लूट, पहले बेटी को पीटा, फिर पत्नि को-1.50 लाख लूट ले गए

Bhopal Samachar
अतुल जैन खनियाधाना। खबर शिवपुरी जिले के पिछोर अनुविभाग के खनियाधाना कस्बे में बीती रात व्यवसायी पंकज गुप्ता के घर में हथियारों धारी बदमाशों ने घर में घुसकर लूटपाट की घटना को अंजाम दिया है। बताया जा रहा है कि बदमाशो ने पहले पंकज जैन की बेटी के साथ मारपीट की,उसके बाद पत्नी की,व्यवसाई की कट्टे की बट से मारपीट की है इस हाथापाई में बदमाशों का कट्टा वही गिर गया था। पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है वही वह इस घटना को चोरी निरूपित कर रही है।

जानकारी के अनुसार खनियाधाना नगर के पौठियाई गल्ला मंडी के पीछे रहने वाले किराना व्यवसायी पंकज जैन के घर में रात एक बजे 2 बदमाशो ने प्रवेश किया। व्यवसाई की बेटी खुशी जैन ने बताया कि वह रात 1 बजे किसी के कमरे में झांकने का प्रयास किया उसके बाद एक बदमाशा जिसके हाथ में डंडा था उसने खुशी से कहा कि चुप रहो। इसके बाद बदमाश ने टेबिल से बैग उठा लिया जिसमें 90 हजार रुपए और दुकान के बही खाते रखे थे। खुशी ने बदमाश का विरोध किया तो उसने खुशी की डंडे से मारपीट शुरू कर दी,इस मारपीट के कारण खुशी चीखने लगी।

पंकज ने बताया कि मेरे पर कट्टे की बट से प्रहार किया
किराना संचाल पवन जैन ने मीडिया को बताया कि बेटी के चीखने पर उसकी नींद खुल गई और गेट खोलकर बहार निकलने का प्रयास किया तो कमरे के बाहर खडे बदमाश ने गेट बंद करने का प्रयास किया लेकिन गेट पर कपड़े टंगे होने के कारण गेट बंद नहीं हो सका। मैने और मेरी पत्नि ने धक्का लगाकर गेट को खोला तो बदमाशो ने मेरे उपर झपट्टा माराख्,मेरे और मेरी पत्नि पर कट्टे की बट से प्रहार किया।

बदमाश से कट्टा छीनने का प्रयास करते समय में नीचे गिर गया और बदमाश मेरे उपर आकर बैठ गया उसी समय रहा दूसरे बदमाश ने मेन गेट की चटकनी खोल दी और वह दोनो भाग गए इस पूरे वाक्य में बदमाशों का कट्टा वही छूट गया था। पंकज के अनुसार उसके यहां से बदमाशा डेढ़ लाख और दुकान के वही खाते ले गए।

पंकज जैन के फर्स्ट फ्लोर का काम चल रहा है
बताया जा रहा है कि पंकज के फस्ट फ्लोर पर काम चल रहा है पंकज जैन ग्राउंड फ्लोर पर निवास करते है। पंकज ने बताया कि हो सकता है कि यह बदमाश जिनकी संख्या दो थी वह उपर पहले से जाकर छुप गए हो। यहा किसी भी प्रकार से चढे हो। बदमाश जीने रास्ते नीचे की मंजिल से नीचे आए थे। बेटियों जिस कमरे में सेाती है उसका गेट नहीं लगा था। बडी बेटी खुशी जाग रही थी और छोटी बेटी सो चुकी थी।


बेटी के चीखने पर मेरी नींद खुली थी। जब में एक बदमाश से लड रहा था तब दूसरा बदमाशा छुपा हुआ था मेरे को जमीन पर पटक कर दोनो बदमाश घर से भागे थे। मैंने सबसे पहले गेट लगाया कही उनके साथी बहार तो नही खडे है। उसके बाद में खुशी के कमरे में गया था वह भयभीत थी और चीख रही थी,बेटी ने ही बताया कि पापा चोर बैग उठा ले गए। मुझे जब पता चला की मेरे पैसे चले गए।

रात में ही पहुच गए
खनियाधाना थाना प्रभारी ने बताया कि रात के समय ही सूचना मिल गई
थी हम मौके पर पहुंच गए थे। पंकज जैन के यहां काम चल रहा था कुछ मजदूरों का भी आना जाना लगा था। चोरी की रकम नब्बे हजार रुपए बताई जा रही है। मामले की जांच की जा रही है चोर जल्द ही पकड़े जाऐगें।
G-W2F7VGPV5M