SHIVPURI NEWS - नसबंदी कराने आई महिलाओ को कबाडा समझ कर स्टोर रूम में ​जमीन पर लिटा दिया

Bhopal Samachar
पवन पाठक@ पिछोर। शिवपुरी जिले के स्वास्थ्य केंद्र पिछोर में बुधवार को नसबंदी शिविर का आयोजन किया गया था। इस नसबंदी शिविर में स्वास्थ्य अमले ने गंभीर लापरवाही बरती,महिलाओं को कबाड़ा समझ कर अस्पताल में बने स्टोर रूम में जमीन पर लिटा दिया,वर्तमान में शिवपुरी जिले को शीत लहर ने अपनी चपेट में ले लिया है। सूर्यदेव दिन में भी बादलों के छुपे रहते है,कड़ाके की सर्दी के बीच न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है। जिले में ऐसा पहली बार नहीं हुआ कि नसबंदी कराने आई महिलाओ को स्वास्थ्य विभाग ने महिलाओं ने जमीन पर लिटाया है और संबंधितो पर कार्रवाई शून्य रही है।

बुधवार को पिछोर अस्पताल में आयोजित नसबंदी शिविर में अव्यवस्थाओं से भरपूर रहा। शिविर में 30 महिलाओं की नसबंदी की गई, लेकिन ऑपरेशन के बाद उन्हें बेड पर लिटाने की बजाय अस्पताल के कबाड़खाने (स्टोर रूम) में जमीन पर लिटा दिया गया। महिलाओं के सिर के पास ही कागज के कार्टून एक के ऊपर एक रखे हुए थे, जो हल्के से धक्के से महिलाओं के ऊपर गिर सकते थे। सर्दी में महिलाओं के लिए कोई बेड (पलंग) की व्यवस्था नहीं की गई।

अटेंडर को बैठने के लिए जमीन के अलावा कोई स्थान नहीं था

इतना ही नहीं ऑपरेशन करने के बाद महिलाओं को चद्दर व कम्बल भी उनके अटेंडर साथ लेकर आए थे। मरीज, अटेंडर तथा उनके साथ आए बच्चों को स्वल्पाहार, चाय आदि की व्यवस्था शिविर की प्राथमिकताओं में है, लेकिन यहां अटेंडर को बैठने के लिए जमीन के अलावा कोई स्थान नहीं था।

मौके पर जब मीडिया की टीम पहुंची तो वहां ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर डॉ. रोहित भदकारिया पूरे शिविर के समय दिखाई नहीं दिए। जानकारी लेने पर पता चला कि डॉक्टर साहब अपने कमरे में आराम फरमा रहे हैं और लोग यहां परेशान हो रहे हैं। नसबंदी ऑपरेशन के बाद महिलाओं को बेड पर लिटाना था।

इनका कहना हैं

मैं वहां पर नहीं था, तो हो सकता है कि स्टोर रूम में जगह देखकर वहां लेटने की व्यवस्था कर दी होगी। हम वहां से पूरा सामान हटवाकर वहां जगह बनवा रहे हैं। मैं अपनी टीम से पूछता हूं कि क्यों ऐसी स्थिति बनी।
डॉ. रोहित भदकारिया, सीबीएमओ पिछोर
G-W2F7VGPV5M