Shivpuri News- बिजली कंपनी के कर्मचारियों ने अल्टीमेटम देकर कहा-अव्यवस्था फैली तो सरकार जिम्मेदार

शिवपुरी। अपनी मांगों को लेकर पूरे मध्यप्रदेश में बिजली कंपनी के कर्मचारी अब कार्य बहिष्कार करने की तैयारी में है। इसी को लेकर आज बिजली कंपनी के पदाधिकारियों ने कलेक्टर सहित एसपी को सूचना देते हुए अपनी मांगों को पूरी कराने की मांग की। अपनी मांग पूरी नहीं होने पर उन्होंने कल मंगलवार से हड़ताल पर जाने की बात कही है।

शिवपुरी कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह को ज्ञापन देते हुए संगठन यूनाइटेड फोरम फॉर पावर एम्पलाइज और इंजीनियर मध्यप्रदेश के कार्यकर्ताओं ने बताया है कि यह संगठन सभी उत्तरवर्ती कंपनियों के प्रमुख संगठनों का एक पंजीकृत संयुक्त संगठन है जो कि प्रदेश की बिजली कंपनियों के सभी अधिकारियों कर्मचारियों की समस्याओं और जायज मांगों के संबंध में समय-समय पर प्रशासन एवं प्रबंधन को अवगत कराकर उनके सार्थक समाधान एवं निराकरण के लिए सदैव प्रयासरत रहता है।

मध्य प्रदेश विदयुत अधिकारी कर्मचारी कल्याण संघ, मध्य प्रदेश विद्युत मंहत तकनीकी कर्मचारी संघ, मध्य प्रदेश बिजली आउटसोर्स कर्मचारी संघ, मध्य प्रदेश बाह स्त्रोत विद्युत कर्मचारी संगठन, विद्युत आउटसोर्स परिषद भोपाल एवं विध्य आउटसोर्स कर्मचारी संगठन के द्वारा 21 जनवरी से कार्य बहिष्कार शुरू कर दिया गया है। जिसका यूनाइटेड फोरम पूर्ण समर्थन करता है।

संगठन के पदाधिकारियों ने बताया है कि यदि 23 जनवरी तक मुख्यमंत्री से उक्त मांगों के संबंध में बैठक कर मांगों का निराकरण नहीं किया जाता है तो यूनाइटेड फोरम अपने सभी घटक दलों के साथ उक्त कार्य बहिष्कार के आंदोलन में संपूर्ण सहयोग करते हुए संपूर्ण मध्यप्रदेश में कार्य बहिष्कार करने को मजबूर होगा। इस दौरान पूरे जिले में बिजली की जो सुविधा होगी इसका जिम्मेदार भी मध्यप्रदेश शासन और प्रशासन होगा।