बचपन के दोस्त को हुआ लीवर इंफेक्शन, तो ब्लड डोनेट कर बचाई जान- Shivpuri News

शिवपुरी।
ब्लड एक ऐसी चीज है जिसे बनाया नहीं जा सकता। इसकी आपूर्ति का कोई और विकल्प भी नहीं है। यह इंसान के शरीर में स्वयं ही बनता है। मरीजों के शरीर में खून की मात्रा इतनी कम हो जाती है तो ऐसी स्थिति में लोगों को ब्लड की जरूरत पड़ती है। वहीं आज शिवपुरी के जिला अस्पताल में एक 25 वर्षीय युवक ने एक भाई को ब्लड डोनेट कर उसकी की जान बचाई।

25 वर्षीय निवासी खरई में रहने वाला हिम्मत धाकड़ ने आज एक 36 वर्षीय अरविंद धाकड़ निवासी खरई को किया ब्लड डोनेट कर उस की जान बचाई। बताया गया है कि अरविंद का लीवर इन्फेक्शन एवं टॉयलेट बंद हो गई थी। इसी के चलते अरविंद की हालत खराब होती जा रही है।

तो ऐसी स्थिति में ब्लड की जरूरत थी तभी हिम्मत ने रक्तदान कर अरविंद की जान बचाई। अरविंद के भाई हेमंत ने अपने बचपन के मित्र हिम्मत को धन्यवाद कहा। मरीज के भाई हेमंत ने समिति के अध्यक्ष दीवान चन्देल को कल किया।

उन्होंने हिम्मत को बोला और हिम्मत तुरन्त गाड़ी से शिवपुरी आ गया। हिम्मत धाकड़ पहले भी 6 से 7 ब्लड डोनेट कर चुका है और आज हिम्मत को सिर्फ एक फोन किया और वह अपने गांव से 55 मिनिट में जिला अस्पताल पहुंचा और ब्लड दिया।