डिप्टी रेंजर का रिश्वत से भरा ऑडियो वायरल, बोले हमारी इज्जत तो रहना चाहिए- Shivpuri News

शिवपुरी।
शिवपुरी सतनवाड़ा रेंज के डिप्टी रेंजर का रिश्वत से भरा ऑडियो वायरल हो रहा हैं। मामला एक ट्रैक्टर को पकडने का हैं,वन विभाग में सक्रिय दलालों के कहने पर जब्त टैक्टर को छोड दिया गया,इस ट्रैक्टर को छोडने के एवज में 30 हजार रुपए की रिश्वत की डिमांड की गई थी। ग्रामीण द्वारा 5 हजार रुपए डिप्टी रेंजर को दे दिए। शेष रकम को लेकर विवाद की स्थिति बन गई। दूसरे ग्रामीण ने डिप्टी रेंजर से इस संबंध में बातचीत की जिसकी बातचीत का ऑडियो वायरल सामने आया है।

सरवन पुत्र दाताराम धाकड़ निवासी बूढ़दा का कहना है कि वह करियारा गांव में डीजल इंजन उठाने गया था। ट्रैक्टर खराब होने पर ठीक कराया और सुबह 6 बजे लौट रहा था। तभी डिप्टी रेंजर दो.तीन लोगों के साथ कार से मिले। चूंकि ट्रॉली में छौले की लकड़ियां पड़ी थींए जिसे लेकर डिप्टी रेंजर ट्रैक्टर.ट्रॉली को वन चौकी ले गए और खैर की लकड़ियां डालकर राजसात करने की धमकी देने लगे।

ट्रैक्टर.ट्रॉली छोड़ने के एवज में 30 हजार रुण् रिश्वत की मांग की। एडवांस 5 हजार रुपए ग्रामीण से मांगकर लाए और डिप्टी रेंजर को दे दिए। डिप्टी रेंजर से उक्त रिश्वत मामले को लेकर सरवन के परिचित युवक ने डिप्टी रेंजर मनोज दोहरे से फोन पर बातचीत की। रिश्वत के 5 हजार रुपए मिलना स्वीकार किया। 

दो दलालों का जिक्र करते हुए डिप्टी रेंजर दोहरे ने कहा कि वह बाकी रुपए कल्लू और और लल्ली से ले लेंगे। फिर चाहे दोनों यह राशि कहीं से भी लाकर दें। क्योंकि दोनों के कहने पर उसने ट्रैक्टर छोड़ा था। इस मामले में एसडीओ और डीएफओ से भी शिकायत की है। अधिकारियों ने जांच कार कार्रवाई की बात कही है। हालांकि इस ऑडियो की शिवपुरी समाचार पुष्टि नहीं करता है।

मैंने पैसे नहीं लिए

किसी मैटर पर मेरे पास कॉल आया था। मैंने कहा था कि आप मेरी इससे.- उससे बात क्यों करते हो खुद किया करो। मैंने इन लोगों से किसी तरह के पैसे नहीं लिए हैं। .
मनोज दोहरे,डिप्टी रेंजर, सब रेंजर सतनवाड़ा

जांच कराएंगे
लिखित शिकायत के आधार पर हम एसडीओ और डीएफओ से बातचीत करके जांच कराएंगे। यदि डिप्टी रेंजर दोषी पाए जाते हैं तो कार्रवाई होगी। .
केपीएस धाकड़, रेंजर, वन परिक्षेत्र