PICHHORE में झलकारी बाई की प्रतिमा छतिग्रस्त, फिर रखी अवैध रूप से रानी अवंतिका बाई की मूर्ति

पिछोर। शिवपुरी जिले के पिछोर विधानसभा में लगातार महापुरुषों की अवैध रूप से प्रतिमा रखने की परंपरा बन चुकी है। प्रतिमाओं के अवैध रूप से रातो रात स्थापित करने के कारण विधानसभा में जातिवाद का जहर घुल रहा हैं। प्रशासन की गुप्तचर ऐंजेसी पिछोर विधानसभा में फैल हो रही हैं। सवाल उठता है कि रातो रात प्रतिमा रखने से पूर्व प्रतिमा बहार से बनकर पिछोर क्षेत्र में आती हैं और प्रशासन को इसकी भनक भी नहीं लगती है।

बीते रोज पिछोर नगर के पीएचई कार्यालय के ऑफिस की प्रस्तावित जमीन पर अज्ञात लोगों ने वीरांगना झलकारी बाई की प्रतिमा को स्थापित कर दिया। लेकिन 24 घंटे बाद ही इस प्रतिमा का छतिग्रस्त भी कर दिया गया। इस मामले में बलवीर सिंह पुत्र मुन्नालाल कोली उम्र 45 वर्ष निवासी काली माता मंदिर के पास पिछोर ने पिछोर थाने में राजघाट कालोनी का बलवंत चौहान पर प्रतिमा क्षतिग्रस्त करने का मामला दर्ज करा दिया हैं।

वही पिछोर अनुविभाग के खनियाधाना थाना क्षेत्र में आने वाले रेड्डी चौराहे पर अज्ञात लोगों ने बीती रात्रि को वीरांगना रानी अंवतिका बाई लोधी की प्रतिमा को अवैध रूप से स्थापित कर दिया हैं। सुबह जब लोग सोकर उठे तो रेडडी चौराहे  पर प्रतिमा स्थापित दिखी। खबर लिखे जाने तक प्रशासन इस मामले की जांच कर रहा हैं।