kolaras News- ग्राम पंचायत स्तर तक पहुंचा जैन समाज का आंदोलन,आज खतौरा बंद, ज्ञापन सौंपा

खतौरा।
जैन समाज के तीर्थ स्थल श्री सम्मेद शिखर जी को पर्यटन स्थल घोषित करने के विरोध में जैन समाज लगातार प्रदर्शन कर रहा है। देश भर के विभिन्न नगरों में ज्ञापन देकर रैलियाँ निकाली जा रहीं हैं।

इसी क्रम में आज खतौरा में जैन समाज ने रैली निकालकर अपना विरोध दर्ज कराया है। इसमे इन्दार जैन समाज के साथ अग्रवाल समाज ने भी अपना पूरा समर्थन देकर रैली में शामिल हुये एवं अपने प्रतिष्ठान भी बंद रखे। रैली में महिलो पुरूषों के साथ बच्चे हाथ में विरोध की तख्तियाँ लेकर चल रहे थे।

नगर के मुख्य मार्गों से होते हुए समाज जन ने पुलिस सहायता केन्द्र पर थाना प्रभारी इन्दार के एन शर्मा जी को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू जी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी, केन्द्रीय पर्यावरण वन मंत्री भूपेन्द्र यादव जी एवं मुख्यमंत्री झारखंड सरकार हेमंत सोरेन जी के नाम ज्ञापन दिया।

जैन समाज का कहना है कि जैनों के सबसे मुख्य एवं पवित्र तीर्थ श्री सम्मेद शिखर जी की पवित्रता को नष्ट करने का कुचक्र रचा जा रहा है। जिसे जैन समाज सहन नहीं करेगी । तीर्थ क्षेत्र की पवित्रता बनाये रखने के लिये हम आगे कुछ भी कर सकते है। 20 तीर्थंकर भगवंतों एवं अनंत संतों की निर्वाण स्थली के साथ यह तीर्थ शाश्वत तीर्थ के रूप में अनादिकाल से अहिंसा का सन्देश दे रहा है।

श्री सम्मेद शिखर जी को पर्यटन नही पवित्र तीर्थक्षेत्र घोषित करे। जैन समाज हिंसक है, किन्तु कायर नहीं, इस बात को सरकार बेहतर ढंग से समझ लेए नहीं तो हमें आगे बड़े आन्दोलन के लिये मजबूर होना पड़ेगा ।