लीला आई करंट की चपेट में, ननद ने बचाया, पति थाने में शिकायत करने की तैयारी- kolaras News

कोलारस।
जिले के कोलारस अनुविभाग के इंदार थाना क्षेत्र के बारोद गांव में खेत पर घास काटने गई महिला बिजली के तारों की चपेट में आ जाने से बुरी तरीके से झुलस गई। महिला की ननद ने महिला को लकड़ी की मदद से बचाया। महिला को उपचार के लिए शिवपुरी के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

महिला के पति का कहना है कि पड़ोसी किसान से कई बार बिजली के तारों को ऊंचा करने की बात की थी] परंतु ऐसा पड़ोसी किसान ने नहीं किया। जिससे यह हादसा घठित हो गया। जानकारी के अनुसार लीला जाटव पति रघुवीर जाटव अपनी ननद के साथ बारोद गांव के बाहर खेत पर चारा काटने गई थी। इस दौरान वह पास के किसान के खेत के लिए डाली गई बिजली के झूलते तारों की चपेट में आ गई।

भाभी को करंट लगता हुआ देख ननद ने बड़ी मुश्किल से लकड़ी के सहारे बिजली के तारों को अलग किया। तब कहीं जाकर महिला की जान बच सकी। बिजली के तगड़े झटके के कारण लीला जाटव बेहोश हो चुकी थी। लीला जाटव की ननद की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे। परिजन उसे सीधा शिवपुरी के जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां लीला जाटव का उपचार जारी है इस हादसे में लीला जाटव के सिर और पैर बुरी तरीके से झुलस गए।

महिला के पति रघुवीर जाटव का कहना है कि उसने अपने पड़ोसी खेत मालिक संतोष जाटव से कई बार बिजली की तारों को ऊंचाई पर लगाने की बात कही थी। परंतु उसने आज तक इसकी सुनवाई नहीं की। जिससे यह हादसा घटित हो गया। संतोष जाटव ने इसकी शिकायत इंदार थाने में दर्ज कराने की बात कही है।