जंगल में कच्ची शराब की फैक्ट्री पर विवाद, शराब के नशे में मारी लाठी मौत-हत्या कर थाने पहुंचा आरोपी- Bairad News

बैराड़।
खबर शिवपुरी जिले के बैराड़ थाना क्षेत्र की सीमा में आने वाले गांव के समीप जंगल में दोस्त के निमंत्रण पर गए प्रेम सिंह का विवाद शराब के नशे में साथ में दारू पार्टी कर रहे दोस्त के साथ हो गया। इस विवाद में शराब के नशे में प्रेम सिंह के सिर में लठ्ठ मार दिया। जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद आरोपी पुलिस को गुमराह करने थाने पहुंच गया।

जानकारी के अनुसार बीती शाम रैय्यान के रहने वाले 45 वर्षीय प्रेम सिंह आदिवासी को बीलपुरा का रहने वाला चतुर सिंह आदिवासी घर से शराब पार्टी करने के लिए कहकर रैय्यान गांव के सदरगढ़ी की नरिया पर ले गया दोनों के साथ उसना तीसरा साथी परमार सिंह भी गया हुआ था।

जहां तीनों ने बैठकर शराब पार्टी कर रहे थे इसी बीच परमार सिंह का विवाद किसी बात को लेकर प्रेम सिंह से हो गया। विवाद झगड़े में बदला और परमार सिंह ने प्रेम सिंह के सिर में लाठियां भांज दी। जिससे मौके से दोनों दोस्त अलग अलग दिशा में निकल गए।

परमार सिंह ने अपने आप बचाने के लिए विते शाम बैराड़ थाने में पहुँचककर शिकायत दर्ज कराई थी कि उसके साथ प्रेम सिंह ने मारपीट कर दी। पुलिस ने परमार की शिकायत पर जांच शुरू कर दी थी परन्तु कुछ देर बाद जंगल में शव होने सूचना पुलिस तक पहुच गई।

तीसरे साथी ने खोला हत्या का राज .

प्रेम सिंह की मारपीट करने के बाद परमाल सिंह ने चतुर सिंह को धमकाते हुए किसी को कुछ न बताने की धमकी दी थी परन्तु चतुर सिंह ने शाम ढलते ही घटित हुई घटना के बारे में प्रेम सिंह के दमाद मातादीन को पूरा घटनाक्रम बता दिया। इसकी सूचना तत्काल बैराड़ पुलिस को दी गई।

इसके बाद प्रेम सिंह के परिजन और बैराड़ थाना पुलिस प्रेम सिंह को ढूंढने जंगल की ओर निकले जहां रात्रि लगभग तीन बजे उन्हें प्रेम सिंह शव खून से लथपथ मिला। सूचना मिलते ही बैराड़ थाना प्रभारी नवीन यादव मोके पर पहुँचे और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज जांच शुरू कर दी।

जंगल मे बनती है शराब .

मृतक के पुत्र विनोद ने बताया कि रैय्यान गांव के जंगल में कच्ची शराब बनाने का काम किया जाता है जहां बीरपुरा का रहने वाला चतुर सिंह उसके पिता को कच्ची शराब की फैक्ट्री पर शराब पिलाने ले गया था। जहां परमार सिंह ने उसके पिता की धारदार हथियार से हत्या कर दी।

इनका है कहना .
बैराड़ थाना प्रभारी नवीन यादव का कहना है कि रैय्यान गांव में शव होने की सूचना मिली थी। घटना के साक्षी चतुर सिंह के बयान के बाद आरोपी परमार सिंह को गिरफ्तार कर हत्या का मामला दर्ज करते हुए विवेचना शुरू कर दी है।