जिला पंचायत अध्यक्ष सीट पर सामान्य वर्ग से ही हो दावेदार: गोविंद शर्मा प्रबल दावेदार - Shivpuri News

शिवपुरी। जिले भर की 25 जिला पंचायत सीटों पर सदस्यों का चुनाव पूर्ण हो गया है जिसमें लगभग 20 सीट भाजपा समर्थित प्रत्याशियों की बताई जा रही हैं और अब जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए घमासान तेज हो गया है जिला पंचायत अध्यक्ष पद अनारक्षित मुक्त वर्ग में है ऐसे में सामान्य वर्ग के व्यक्ति को ही जिला पंचायत अध्यक्ष बनाने की मांग उठ रही है।

पिछली बार यह सीट पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित थी जिस पर कमला बैजनाथ यादव पिछड़ा वर्ग महिला प्रतिनिधि के तौर पर काबिज थीं अब जब यह सीट अनारक्षित होकर मुक्त वर्ग में है, जिस पर यूँ तो किसी भी वर्ग का महिला या पुरुष चुना जा सकता है लेकिन जब सभी वर्गों के प्रतिनिधियों को अपने-अपने आरक्षण में पद पर चुने जाने का मौक़ा मिलता है, और अगर अनारक्षित वर्ग होने पर भी सामान्य वर्ग के अलावा कोई चुना जाता है तो फिर सामान्य वर्ग के पुरुष को कब मौक़ा मिलेगा.? इसलिए जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर सामान्य वर्ग के व्यक्ति को ही जिला पंचायत अध्यक्ष बनाने की मांग उठ रही है।

पहले कुछ लोगों द्वारा यह ग़लत जानकारी फैलाई गयी थी कि ज़िला पंचायत अध्यक्ष का पद अनारक्षित महिला है लेकिन ज़िला निर्वाचन कार्यालय द्वारा दी गई जानकारी से यह स्पष्ट हो गया है कि उक्त पद अनारक्षित महिला ना होकर "अनारक्षित मुक्त" की श्रेणी में है

गोविंद शर्मा हैं जिला पंचायत अध्यक्ष पद के प्रबल दावेदार

रिटायर्ड माइनिंग ऑफिसर गोविंद शर्मा जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए सामान्य वर्ग के प्रबल दावेदार के रूप में सामने आ रहे हैं, वे जिला पंचायत वार्ड क्र. 1 से भारी बहुमत से जीत कर आए हैं व लगातार नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्यों के संपर्क में बने हुए हैं और सामान्य वर्ग के मजबूत प्रतिनिधि के रूप में सामने आ रहे हैं।