मिलिए निकाय चुनाव से अपना राजनैतिक कैरियर शुरू करने वाली महिला प्रत्याशियों से, कोई ग्रेजुएट तो कोई LLB- Shivpuri News

शेखर यादव@ शिवपुरी। शिवपुरी में नगरीय निकाय के मतदान का मात्र 1 दिन शेष रह गया है। इस निकाय चुनाव में चुनाव लडने के लिए पोस्ट ग्रेजुएट महिला उम्मीदवार मैदान में उतरी है। निकाय चुनाव में अपना राजनैतिक शुरू करने वाली यह महिला नेत्री कोई ग्रेजुएट होकर डिग्री होल्डर है तो कोई एलएलबी हैं। इनमे से एकाध को छोड दे इन महिला उम्मीदवार राजनीतिक परिवार से नही है,लेकिन यह महिलाएं अपनी दम पर चुनाव जीतकर समाजसेवा के लिए अग्रसर है। मतदाताओं के बीच जाकर मतदाताओं को अपनी योग्यता से अपनी ओर आकर्षित कर रही है।

वार्ड क्रमांक 6: कांग्रेस उम्मीदवार मोनिका सीटू सडैया बनी मतदाताओं की पसंद

वार्ड क्रमांक 6 शहर का मध्य वार्ड हैं इस वार्ड से कांग्रेस ने मोनिका सीटू सडैया को अपना उम्मीदवार बनाया हैं। मोनिका सडैया मतदाताओं के बीच जाकर वार्ड की समस्या से रूवरू हो रही हैं और वार्ड की समस्याओं का निदान करने और विकास करने की वादा भी कर रही हैं। मोनिका मतदाताओं से घर घर संपर्क कर मतदाताओं को अपनी ओर आकर्षित कर रही है। मोनिका शर्मा बीकॉम-एमकॉम स्टेनो और पीजीडीसीए हैं।

यह ऐसी प्रत्याशी नहीं होंगी जो अपने काम में अपने पति का सहारा लेंगी ऐसा इनके वार्ड के मतदाताओ का कहना हैं आम तौर पर देखा गया है कि चुनकर जनता महिलाओं को परिषद में भेजती हैं और उनके पति पार्षदी करते हैं,शिवपुरी की राजनीति में इस निकाय चुनाव से एक योग्य महिला का पर्दापण हुआ हैं।

वार्ड क्रमांक 18:निर्दलीय प्रत्याशी अंजलि शर्मा,अपने व्यक्तित्व की वजह से चर्चा में

वार्ड क्रमांक 18 से अपने वार्ड की दिशा और दशा सुधारने के लिए मैदान में निर्दलीय प्रत्याशी अंजलि शर्मा का इस चुनाव से राजनीति में पर्दापण हुआ हैं। अंजलि शर्मा सर्व ब्राहम्मण समाज के जिला अध्यक्ष राजेन्द्र दुबे खजूरी वालो की बेटी हैं और पूर्व नगर पालिका उपाध्यक्ष अन्नी शर्मा के छोटे भ्राता देवेन्द्र शर्मा उर्फ लल्लू की पत्नि हैं।

अंजलि शर्मा मतदाताओं से फेस टू फेस रूबरू हो रही हैं। अंजलि शर्मा राजनीतिक परिवार से है यह गुण उनकी बातचीत में झलकता हैं,अपने व्यवहार और व्यक्तित्व से वह मतदाताओं की पसंद है। अंजलि शर्मा भी बीकॉम,एमकॉम ओर एलएलबी हैं। अपने बल पर वार्ड में चुनाव लड रही है। वार्ड में अंजलि शर्मा दलीय प्रत्याशियो के लिए चुनौती बनी हुई है।

वार्ड क्रमांक 03:निर्दलीय प्रत्याशी महिमा शर्मा बनी दलों को सीधे चुनौती के रूप में

वार्ड क्रमांक 03 में निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में भाजपा और कांग्रेस को सीधे टक्कर दे रही हैं महिमा शर्मा। इस वार्ड पर पर पूरे शहर की नजर है क्यो कि यहां से भाजपा नेता भानु शर्मा की धर्म पत्नि दीप्ति भानू दुबे भाजपा की ओर से प्रत्याशी हैं। महिमा शर्मा एक आम ब्राह्मण परिवार की बहू है,लेकिन मतदाताओं को अपनी ओर आकर्षित करने में वहां काफी सफल हो रही हैं। महिमा शर्मा एमए हिन्दी और एमएड रनिंग हैं। अपने वार्ड के मतदाता से वह सीधे फेस टू फेस रूबरू हो रही हैं।

वार्ड क्रमांक 2: राखी कुशवाह,मतदाता के बीच लोकप्रिय

वार्ड क्रमांक 2 से अपने वार्ड की दशा सुधारने के के लिए कुं.राखी कुशवाह मैदान में हैं। यह भी एक आम परिवार की बेटी है,समाज सेवा को अपना कैरियर चुना है इसलिए यह इस निकाय में चुनाव मैदान में हैं। राखी कुशवाह बेबाक अंदाज में अपने वार्ड में अपने मतदाताओं से बातचीत करती है और वादा कर रही है कि वह अगर चुनाव मे विजयी होता है तो वह परिषद में अपनी बुलंद आवाज से इस वार्ड की दिशा और दशा सुधारने के लग जाऐंगी। राखी कुशवाह बीए फायनल,स्टेनो,कम्प्यूटर में दक्षता की डिग्री और रनिंग एमए है,कुल मिलाकर एक शिक्षित महिला नेत्री का उदय इस चुनाव से हुआ हैं।

वार्ड क्रमांक 26: रूपमति यादव मुसीबत बन कर उभरी हैं दलों को

वार्ड क्रमांक 26 में आम आदमी पार्टी की प्रत्याशी है,रूपमति यादव भी अपने मतदाताओं से सीधे संपर्क में आकर उनकी समस्याओं के निदान का वादा कर रही है। वार्ड को मॉडल वार्ड बनाने का वादा कर अपने लिए वोट मांग रही है।

रूपमति यादव का बातचीत का सहज तरिका जो एक वार्ड की बहू का होता हैं वह उनके व्यक्तित्व में झलकता हैं और उनका यह व्यक्तित्व ही दलीय प्रत्याशियों के लिए मुसीबत बन रहा हैं। रूपमति यादव भी बीए,बीएड है। अपनी शिक्षा और व्यक्तित्व के बल पर वार्ड की समस्याओं से लड सकती हैं।