युवती बनी वजह नीलेश के फांसी की, विकास ने दी मृतक को बदनाम करने की धमकी- Shivpuri News

शिवपुरी। अमोला कस्बे में बीते रोज आंवले के पेड़ पर फांसी लगाकर एक युवक नीलेश विश्वकर्मा द्वारा आत्महत्या करने के मामले में जांच के बाद पुलिस ने करैरा निवासी एक आरोपी विक्की उर्फ विकास पाल के खिलाफ भादवि की धारा 306 आत्महत्या उत्प्रेरक का मामला दर्ज किया है।

पुलिस ने जांच में पाया कि मृतक आरोपी के पड़ोस में रहने वाली एक युवती से बातचीत करता था, जो आरोपी को पसंद नहीं था। जिसके चलते आरोपी विक्की पाल मृतक नीलेश को प्रताड़ित करता था, जिससे परेशान होकर उसने फांसी लगाकर आत्महत्या की।

अमोला थाना प्रभारी अमित चर्तुवेदी ने जानकारी देते हुए बताया कि 6-7 जुलाई की रात भगवत पुत्र लक्ष्मीनारायण विश्वकर्मा निवासी अमोला नम्बर 3 ने जानकारी दी कि उसके पुत्र नीलेश विश्वकर्मा ने घर के पीछे लगे आंवले के पेड़ पर रस्सी से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। इस दौरान परिजनों ने करैरा निवासी एक युवक विक्की उर्फ विकास पुत्र नवल सिंह पाल निवासी सिटी सेंटर पर आरोप लगाया कि वह नीलेश को लगातार प्रताड़ित कर रहा था।

पुलिस ने उस मामले में उस समय मर्ग कायम किया और मामले की विवेचना सहायक उपनिरीक्षक विवेक भट्ट को दी गई। जिन्होंने मृतक के पिता भगवत शरण विश्वकर्मा, मां शांति विश्वकर्मा, भाई ब्रजमोहन विश्वकर्मा और बहन कौशकी विश्वकर्मा कथन लिए। जिन्होंने पुलिस को बताया कि करैरा के सिटी सेंटर निवासी विक्की उर्फ विकास पाल नीलेश को लगातार प्रताड़ित कर रहा था।

प्रताडऩा का कारण यह बताया जाता है कि मृतक का आरोपी के पड़ोस में रहने वाली एक युवती के यहां आना-जाना था और वह युवती से बातचीत करता था। इसी कारण आरोपी मृतक को प्रताड़ित करता था और कहता था कि वह उसकी बदनामी कर देगा। इसी प्रताड़ना से तंग आकर उसने आत्महत्या कर ली।