प्लॉट की रजिस्ट्री को लेकर विवाद: सास,पति और देवर ने महिला को कपड़े उतारकर पीटा, 3 साल का बेटा मां को बचाने दौड़ा- kolaras News

कोलारस। जिले के कोलारस थाना क्षेत्र के कोलारस में हरिपुर में महिला के कपड़े उतारकर उससे मारपीट करने का मामला सामने आया है। मारपीट करने वाले कोई और नहीं, बल्कि महिला का पति, सास और देवर ही थे। मां को पिटता देख 3 साल का बेटा भी रोते हुए उसे बचाने दौड़ा और दादी से भिड़ गया। हालांकि, उसकी कोशिश नाकाफी रही और वो लोग नहीं रुके।

पीड़िता का गुनाह बस इतना था कि वह अपने मायके वालों से मिले प्लॉट को पति के नाम पर नहीं कर रही थी। उधर आरोपी पति का कहना है कि पत्नी ने 10 हजार रुपए की मांग करते हुए हंगामा किया। महिला की शिकायत पर पुलिस ने ससुरालवालों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

जानकारी के अनुसार कोलारस के हरिपुर गांव का है। यहां की रहने वाली सविता केवट ने अपने मायके वालों से मदद लेते हुए डेढ़ साल पहले बदरवास में एक प्लाट खरीदा था। वह चाहती थी कि बच्चों के बड़े होने पर ये प्लॉट उनकी पढ़ाई-लिखाई के वक्त काम आएगा। प्लॉट के शुरुआती पैसे सविता के मायके वालों ने दिए थे। इसके बाद भी प्लॉट की बाकी किस्त के लिए मायके वाले सहयोग करने को तैयार थे।

सविता का कहना है कि डेढ़ साल पहले लिए प्लॉट की किस्त भरने और अपने बच्चों को अच्छे स्कूलों में पढ़ाने के लिए मैंने मजदूरी भी शुरू कर दी। धीरे-धीरे करके मैंने जमीन की किस्तें भी भर दीं। अब सिर्फ 1-2 महीने की किस्त ही बाकी थी, जिसके बाद रजिस्ट्री हो जाती।

सविता ने बताया कि प्लॉट की रजिस्ट्री उसका पति तुलसी अपने नाम कराना चाहता था। क्योंकि ऐसा होते ही वो जमीन को बेच देता और बच्चों को पढ़ाने का मेरा सपना भी कभी पूरा नहीं होता। इसलिए मैं प्लॉट की रजिस्ट्री पति के नाम नहीं कराना चाहती थी।

जमीन की रजिस्ट्री अपने नाम नहीं कराने से खफा महिला के पति तुलसी ने अपनी मां और भाई प्रह्लाद के साथ मिलकर सविता को खूब पीटा। वे सविता के कपड़े उतारकर जमीन पर गिरा-गिरा कर मार रहे थे। इस दौरान सविता का 3 साल का बेटा भी मां को बचाने के लिए दौड़ा और जाकर दादी को एक हाथ मार दिया।

इसके बाद भी आरोपियों ने महिला को पीटना बंद नहीं किया, तो वह रोते हुए मां को छोड़ने की मिन्नतें करने लगा। इस दौरान महिला का छोटा बेटा भी साइड में खड़े होकर सिसकियां भरते हुए मां को पिटते हुए देख रहा था। आखिर में सविता ने पत्थर उठा लिया और हाथ उठाने पर मारने की धमकी दी, तब कहीं जाकर आरोपियों ने पिटाई बंद की।

सविता के पति तुलसी केवट का कहना है कि उसकी पत्नी उससे दस हजार रुपए मांग कर रही थी। इसी के चलते उसने घर में हंगामा कर दिया। वह अपने आप को आग लगाना चाहती थी। कोलारस थाना प्रभारी मनीष शर्मा का कहना है महिला की शिकायत पर पति के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। जांच की जा रही है।