सिंध में डूबी दो किशोरिया: गिनती की जब सिमरन का पता चला, एकादशी व्रत के चलते सिंध पर नहाने गई थी- kolaras News

कोलारस। जिले के कोलारस थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम पचावली अनंतपुर में एकादशी व्रत के चलते गांव की महिलाएं नहाने सिंध नदी में गई थी। महिलाओं के साथ में बच्चियां भी आई थी। इसमें 2 बच्चिया पानी में डूब गई,जिसमें एक की मौत हो गई। एक बच्ची की हालत गंभीर बनी हुई है। उक्त बच्ची को इलाज के लिए ग्वालियर रेफर किया गया है।

जानकारी के अनुसार शुक्रवार की सुबह ग्राम पचावली अनंतपुर की कुछ महिलाएं एकादशी के चलते सिंध नदी पर नहाने के लिए गई थीं। इन महिलाओं के साथ गांव के रघुवंशी परिवारों की दो बच्ची सिमरन पुत्री सुनील रघुवंशी उम्र 13 साल एवं सिमरन पुत्री सतीश रघुवंशी उम्र 14 साल भी नदी पर चली गईं।

जब सभी महिलाएं नदी के किनारे नहा रही थीं, इसी दौरान दोनों सिमरन सहित दो अन्य बच्चियां पानी के एक गड्ढे में नहाने के लिए उतर गईं। नहाते-नहाते सिमरन पुत्री सतीश रघुवंशी न जाने कब पानी में डूब गई और किसी को कुछ पता नहीं चला। कुछ ही देर में जब दूसरी सिमरन ने पानी में डूबी तो वह पानी में फड़फड़ाने लगी। सिमरन को पानी में डूबते हुए महिलाओं ने देखा तो दौड़ कर उसे बाहर निकाला।

जब महिलाओं ने उनके साथ आए बच्चों की गिनती की तो सिमरन गायब थी। सिमरन को आसपास तलाश लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लगा। महिलाओं ने जब चीख पुकार की तो वहां गांव के कुछ लोग आ गए और उन्होंने पानी में सिमरन को तलाश किया। सिमरन की लाश पानी में से बाहर निकालने के बाद उन्हें तत्काल स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया।

स्वास्थ्य केंद्र पर सिमरन पुत्री सुनील को तो डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। वहीं सिमरन पुत्री सतीश को इलाज के लिए शिवपुरी जिला अस्पताल लाया गया, जहां से उसकी गंभीर हालत के चलते उसे ग्वालियर रेफर कर दिया। मृतिका के घर वालों ने मासूम बच्ची का पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया। पुलिस ने उन्हें काफी समझाने का प्रयास किया लेकिन बेटी की मौत के गम में दुखी स्वजनों ने पुलिस को भी वहां से बैरंग लौटा दिया।