रद्दी का टुकड़ा निकली 2 लाख 5 हजार रुपए की FD: कियोस्क संचालक ने बना दी फर्जी- karera News

करैरा‎। करैरा के दबरा दिनारा गांव की‎ ‎ विधवा महिला‎ ‎ के संग कियोस्क‎ ‎ संचालक द्वारा‎ ‎ बैंक‎ ‎ अधिकारियों की‎ ‎ मिलीभगत से‎ ‎ 2.05 लाख की‎ ‎ धोखाधड़ी की‎ है। महिला ने पुलिस थाने और‎ बैंक शाखा में शिकायत करके‎ मामले में कार्रवाई की मांग की है।‎ पति की मौत के एवज में दो‎ लाख रु.मिले थे। फिक्स‎ डिपॉजिट के रूप में बैंक शाखा‎ में सुरक्षित रखने की मंशा से यह एफडी कराई थी।

विधवा महिला प्रीति यादव‎ पत्नी स्व धर्मेंद्र यादव निवासी‎ ग्राम दबरा दिनारा का कहना है‎ कि उसके पति के निधन के बाद‎ दो लाख रुपए मिले थे। बच्चों का ‎ख्याल करते हुए इंडियन बैंक‎ शाखा एक्सचेंज के सामने करैरा‎ में 1 जुलाई 2020 को 1 लाख‎ रु. की पहली एफडी कराई थी। कियोस्क संचालक द्वारा एफडी‎ का दस्तावेज दिया था।

22 जुलाई 2021 को 1 लाख 5‎ हजार रुपए की दूसरी एफडी‎ कराई। फिक्स डिपॉजिट का समय‎ होने पर बैंक पहुंची तो पता चला‎ कि एफडी फर्जी हैं। यह सुनकर‎ महिला के पैरों तले जमीन‎ खिसक गई। महिला ने पुलिस‎ थाने में भी शिकायत की है। बैंक‎ अधिकारियों को भी शिकायत की है।‎

कालीपहाड़ी का कियोस्क‎ संचालक, मकान‎ खरीदकर झांसी रहने लगा‎

विधवा प्रीति यादव का कहना है कि‎ बैंक शाखा का कियोस्क सेंटर‎ चलाने वाले कदम यादव निवासी‎ कालीपहाड़ी द्वारा बैंक शाखा में‎ अधिकारियों से बातचीत कराकर‎ एफडी कराई थी। कियोस्क‎ संचालक ने हाल ही में 18 लाख‎ रु. का झांसी में मकान खरीदा है‎ और यहां काम बंद करके वहीं रहने‎ लगा है। महिला ने बताया कि‎ उसका 10 साल का बेटा और 11‎ साल की बेटी है।‎