पिता ने कहा मेरी 12 साल की बेटी का शादी के नाम पर सौदा किया जा रहा हैं- Shivpuri News

शिवपुरी। जिले की बदरवास परियोजना अंतर्गत ग्राम विनेका में एक नाबालिग बेटी को बेच कर उसकी शादी कराने की शिकायत पर महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों ने इंदार थाना पुलिस के साथ मौके पर पहुंचकर नाबालिग बच्ची का विवाह रुकवाने की कार्रवाई की है। बेटी के पिता ने श्योपुर जिले की विजयपुर तहसील के परियोजना अधिकारी को शिकायत दर्ज कराकर बेटी को बचाने की गुहार लगाई थी।

विजयपुर निवासी लालाराम बाथम ने परियोजना अधिकारी विजयपुर को शिकायत दर्ज कराई थी कि मेरी पत्नी विनीता ने फोन पर सूचना दी थी कि मैं अपनी बेटी काजल की शादी कर रही हूं। आप 20 जून को मेरे मायके विनेका आ जाओ। लालाराम ने शिकायत में उल्लेख किया कि मेरी बेटी की उम्र सिर्फ 12 साल है और उसे किसी दलाल के माध्यम से बेचा जा रहा है।

इस बात की जानकारी विजयपुर से शिवपुरी डीपीओ तक भिजवाई गई। सूचना पर बदरवास महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी इंदार थाना क्षेत्र की पुलिस को साथ लेकर ग्राम विनेका पहुंचे और काजल के मामला फूल सिंह सहित मां विनीता व अन्य स्वजनों को चेतावनी दी कि अगर नाबालिग बच्ची की शादी किसी भी हालत में की गई तो उनके खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज किया गया जाएगा।

मां बोली, पिता शराबी है झूठी शिकायत की है

?इस पूरे मामले में जब दूरभाष पर काजल की मां विनीता से मीडिया ने मामले की जानकारी चाही तो उनका कहना था कि उसका पति लालाराम शराबी है। नशे में उसकी मारपीट करने के साथ-साथ बच्ची के साथ भी ज्यादती करता है। यही कारण है कि वह मायके आकर रह रही है। विनीता के अनुसार काजल के मामा फूल सिंह ने अपनी बेटी रशमी और मेरी बेटी काजल की शादी गुना जिले के ग्राम गोमनपुरढेरी तहसील आरौन में तय की थी।

21 जून को बेटियों की बारात आनी थी, उससे पहले ही लालाराम की शिकायत पर अधिकारियों ने आकर शादी रोकने की बात कह दी। विनीता का कहना है कि वह बेटी को बेच नहीं रही है, बल्कि उसका ब्याह करा रही है। जब बच्चियों की शादी कर रहे फूलसिंह से फोन पर उन दोनों लड़कों के नाम पूछे गए जिनसे वह दोनों बेटियों की शादी करवा रहा है, तो वह दोनों बच्चों में से एक का भी नाम नहीं बता पाया और न ही उनके पिता व परिवार की कोई जानकारी दे पाया। हालांकि 21 जून को उसकी बेटी रशमी की बारात आने की बात फूल सिंह स्वीकार कर रहा है। उसके अनुसार उसकी बेटी की उम्र 22 साल की है।

इनका कहना है
मेरे पास महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों का फोन आया था। मैने उन्हें थाने से फोर्स मुहैया करवा दिया था। पूरी कार्रवाई महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों द्वारा की गई है।
केएन शर्मा,थाना प्रभारी इंदार

हमारे पास कल सूचना आई थी। सूचना के आधार पर संबंधित परियोजना अधिकारी को मामले में उचित कार्रवाई के निर्देश दिए थे, जिस पर शादी रुकवा दी गई है।
देवेंद्र सुंदरियाल,डीपीओ शिवपुरी