पति को जिंदा ही मार दिया पत्नी ने: स्वीकृत कुटीर का पैसा लेकर भाग गई अपने आशिक के साथ - Bairad News

शिवपुरी। शिवपुरी जिले के बैराड़ तहसील की ग्राम पंचायत जौराई के मझरा रघुनाथपुरा में रहने वाला सुरेश पुत्र छोटा आदिवासी गुरूवार को जिला पंचायत में शिकायती आवेदन लेकर आया। जिसमें उसने बताया कि में काम करने गांव से बाहर तीन चार महिने के लिए गया था। इसी बीच मेरी पत्नी ने मुझे मृत बताकर मेरी कुटीर का पैसा निकाल लिया तथा किसी दूसरे के साथ भाग गई।

सुरेश ने बताया कि हमारे गांव की सरपंच इंद्रावती एंव सचिव हरिदास धाकड़ ने मुझे मरा बताकर मेरा नाम आईडी से हटा दिया,मेरा राशन खाद्यान्न बंद कर दिया,जबकि में जिंदा हूं। सरेश ने बताया कि मैं मजदूरी करने के लिए तीन चार माह तक बहार चला था और जिस जगह कंपनी में काम करने गया था उसका पता भी मैने आवेदन में लिखा है। मेरी पत्नी गीता बाई ने मुझे मरा घोषित बताकर सरपंच सचिव से मेरा मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाकर मेरे नाम से स्वीकृत कुटीर का पैसा निकाल लिया।

स्वीकृत कुटीर का पैसा निकालने के बाद गांव के एक जाटव युवक के साथ भाग गई। सुरेश ने मांग की हैं कि इस मामले की जांच कराई जाए मेरी पत्नी और सरपंच सचिव के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए।