9 साल की मासूम का बलात्कर कर पत्थर से कुचल हत्या करने वाला आरोपी शिवपुरी के बांसखेडी गांव का निकला- Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी जिले के पडोसी जिला दतिया के गोराघाट थाना क्षेत्र में 9 साल की बच्ची के बलात्कार के बाद उसकी हत्या करने वाला मासूम का मामा ही निकला। आरोपी मामा शिवपुरी जिले के करैरा विधानसभा में आने वाले गांव बांसखेडी का निवासी हैं और दतिया शादी में शामिल होने आया था और मौका पाते ही उसने बलात्कार करने के बाद पत्थर से कुचलकर मार डाला। ओर शव को घर से करीब 100 मीटर दूर नहर किनारे झाड़ियों में निर्वस्त्र फेंक दिया था।

गोराघाट पुलिस को सोमवार दोपहर सूचना मिली थी कि नहर के पास झाड़ियों में 9 साल की बच्ची का शव निर्वस्त्र अवस्था में मिला है। ग्रामीणों ने उसके साथ दुष्कर्म कर हत्या किए जाने की आशंका जताई थी। इस पर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवाया था।

6 टीमों का किया गया गठन
दतिया एसपी अमन सिंह राठौड़ ने बताया कि, मामला गंभीर होने के कारण तुरंत बड़ौनी एसडीओपी दीपक नायक सहित अलग-अलग थाना प्रभारियों की 6 टीमें गठित कर छानबीन शुरू की, जिसमें एक अन्य बच्ची ने बताया गया कि, हम तीन बच्चे एक खाट पर सो रहे थे। तभी दूर के रिश्तेदार ने मुझे उठाकर कमरे में ले जाने की कोशिश की। मैं उनके चंगुल से छूट कर डीजे के पास खड़ी अपनी मां के पास आ गई।

कुछ देर बाद खाट पर आई तो मेरे साथ सो रही उक्त बच्ची नजर नहीं आई। उसके बयान के बाद पुलिस ने संदेही युवक को पकड़ा,संदेही युवक की पहचान छत्रपाल सिंह रावत उम्र 26 साल निवासी बासंखेडी गांव थाना करैरा जिला शिवुपरी के रूप में पहचान हुई। आरोपी युवक मासूम का दूर का मामा लगता हैं। पुलिस ने उससे पूछताछ की तो वह टूट गया।

बलात्कार के बाद हत्या कर गांव लौटा
आरोपी ने बताया कि तिलैथा में शादी में शामिल होने के लिए आया था। रात में बच्ची को खटिया पर सोता देखा तो उसे उठाकर मकान के पीछे ले गया। और बलात्कार किया, फिर पकड़े जाने के डर से पत्थर से कुचलकर उसकी हत्या कर दी। शव को नहर के पास झाड़ियों में फेंका और वापस अपने गांव लौट गया। पुलिस ने जब आरोपी का आपराधिक रिकॉर्ड चेक किया तो उस पर कई मामले दर्ज होने की बात सामने आई।

मां ने बेटी के साथ गलत होने की बात कही थी
बच्ची की मां ने बताया की बेटी रात को डीजे के पास खड़ी थी। शोर शराबा ज्यादा होने से वह भीतर चली गई थी। रात को सोने के पहले मैंने बच्ची को देखा तो वह नहीं दिखी। मुझे लगा बच्ची कहीं पर सो गई होगी। सुबह भी जब बच्ची नहीं मिली तो उसे तलाशा। खोजने पर वह 100 मीटर दूर नहर के पास झाड़ियों में निर्वस्त्र मृत मिली। उसके साथ गलत हुआ है। वहीं, पिता का कहना है कि उसकी 4 संतानें हैं, जिनमें तीन बेटी और एक बेटा है। बेटी सबसे बड़ी थी और तीसरी में पढ़ती थी।