सहाब! पति पत्नि मेरा ट्रैक्टर ट्रॉली ले गए अब बीमा खत्म होने पर ट्रेक्टर से एक्सीडेंट करने की धमकी दे रहे है - Shivpuri News

शिवपुरी। एसपी ऑफिस मे अपनी शिकायत लेकर पहुंचे युवक ने बताया कि मेरे गांव का संतोष अपनी पत्नी के साथ आया और मेरा ट्रैक्टर और ट्रॉली अपने साथ ले गया और धमकी दे गया कि इस ट्रैक्टर से एक्सीडेंट करूंगा और तुझे फसाउंगा। पीडित का कहना है कि संतोष आए दिन उसके परिवार के सदस्यों को प्रताड़ित करता है और लडाई झगडा करता है।

जानकारी के अनुसार ग्राम रामनगर गधाई थाना करैरा निवासी हनुमंत सिंह रावत ने एसपी ऑफिस मे अपनी शिकायत मे बताया कि संतोष रावत व उसकी पत्नी विनीता रावत निवासी रामनगर गधाई थाना करैरा द्वारा प्रार्थी व परिवार के सदस्यों को आये दिन मानसिक रूप से परेशान प्रताड़ित किया जा रहा है। एवं आये दिन लडाई-झगडा करते रहते हैं एवं प्रार्थी व परिवार के सदस्यों को गलत तथ्यों के आधार पर पुलिस थाना करैरा में झूठी शिकायतें करता रहता है। व कहने समझाने पर जान से मारने की और गांव से बेदखल करने की धमकी देता रहता है।

आज से 10 दिन पूर्व उक्त संतोष रावत व इसकी पत्नी विनीता रावत मेरे द्वारा क्रय किये गये 855 ट्रैक्टर-टॉली जिसका रजिस्ट्रेशन नम्बर एम०पी०-33 ए.बी.-8705 को मेरे घर से उठाकर ले गये जब प्रार्थी ने ट्रैक्टर-ट्रॉली ले जाने को मना किया कि इसका बीमा नहीं है इसके बाद भी ये जबरदस्ती उठाकर ले गये जिसका प्रार्थी ने व परिवार के सदस्यों ने विरोध किया तो उक्त लोगों ने कहा कि हम इससे एक्सीडेंट करेगें।

इसके बाद ट्रैक्टर-टॉली वापिस नहीं दिये और पुलिस थाना करैरा में गलत तथ्यों के आधार पर गलत तरीके से संगीन अपराध में फसाना चाहते थे। लेकिन उक्त लोगों के संबंध में पुलिस को जानकारी होने के कारण इन्होंने मारपीट और लडाई झगडे का प्रकरण कायम कराया है जबकि प्रार्थी का कहना है कि उसने कोई लडाई झगडा नही किया है और न ही कोई विवाद किया है।

इस प्रकार उक्त संतोष एवं इसकी पत्नी विनीता रावत द्वारा इस प्रकार झूठी शिकायतें करने व जान से मारने की धमकी देने व ट्रैक्टर-टॉली वापिस नहीं देने से वापिस नहीं देने से प्रार्थी व परिवार के सदस्य काफी परेशान है। प्रार्थी का कहना है कि ट्रैक्टर-ट्रॉली वापिस न देने से हमारे कृषि कार्य प्रभावित हो रहा है। एवं उक्त व्यक्ति मेरे ट्रैक्टर ट्रॉली का दुरुपयोग कर सकते है अगर ट्रैक्टर-ट्रॉली से किसी प्रकार की घटना दुर्घटना होती है या हमारे साथ कोई घटना घटित होती है तो उक्त लोगों को ही जिम्मेदार मानते हुए उसके जान मान की रक्षा की मांग की।