शासकीय हॉस्टल में ज्योतिबा फुले जयंती मना रही थी BJP, भीम आर्मी पहुंच गई:मचा बवाल

शिवपुरी। बीते दिवस ज्योतिबा फुले की जयंती थी इस अवसर पर भाजपा ने एक कार्यक्रम आयोजित किया था। यह कार्यक्रम एक शासकीय हॉस्टल में रखा था। भीम आर्मी ने वहां पहुंच गई और बिना अनुमति के कार्यक्रम करने पर बबाल मचा दिया। आपस में धक्का मुक्की के वीडियो भी सोशल पर वायरल हो रहे है। भीम आर्मी का आरोप था कि शासकीय हॉस्टल में बिना अनुमति के कार्यक्रम किया जा रहा था।

जानकारी के अनुसार ज्योतिबा फुले की जयंती पर खिन्नी नाका स्थित पोस्ट मैट्रिक अनुसूचित जाति जनजाति छात्रावास में हुए भाजपा के कार्यक्रम में बवाल हो गया। कार्यक्रम के दौरान भीम आर्मी के सदस्य वहां पहुंच गए। भीम आर्मी ने बिना अनुमति कार्यक्रम करने और ज्योतिबा फुले के नाम पर शासकीय हास्टल में भाजपा व आरएसएस का प्रचार करने का आरोप लगाया।

जब भीम आर्मी के सदस्यों ने कार्यक्रम की अनुमति मांगी तो इस दौरान भाजपाइयों के साथ उनकी झड़प हो गई। इस दौरान दोनों पार्टियों के बीच हल्की धक्का-मुक्की भी हो गई। वहां भाजपा जिला अध्यक्ष राजू बाथम भाषण दे रहे थे और बीच भाषण में ही विवाद हो गया। भीम आर्मी के सदस्यों ने कार्यक्रम के बीच से ही सभी छात्रों को वहां से बाहर निकलवा दिया। इस मामले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी ट्वीट किया है।

कार्यक्रम के दौरान विवाद की शुरुआत वहां लगे हुए बैनर को लेकर हुई। भाजपा ने जो बैनर लगाया था उसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा की तस्वीर थी। नेताओं की तस्वीर के साथ भारतीय जनता युवा मोर्चा लिखा था, लेकिन जिनकी जयंती पर कार्यक्रम किया जा रहा था उनकी ही तस्वीर बैनर से गायब थी।

हालांकि पास में ज्योतिबा फुले की तस्वीर रखी हुई थी, लेकिन बैनर में तस्वीर न होने पर भीम आर्मी ने आपत्ति ली। भीम आर्मी के सुधीर कोड़े ने कहा कि इस तरह शासकीय हॉस्टल में बिना अनुमति राजनीतिक प्रचार नहीं किया जा सकता है। यहां पर अधीक्षक ने बताया कि उन्हें विभाग के संयोजक आरएस परिहार का कॉल आया था और उन्होंने कहा था कि भाजपा की एक बैठक होना है।

सुधीर कोड़े ने यह भी आरोप लगाए हैं कि भाजपा जिला अध्यक्ष राजू बाथम ने धमकी भी दी है कि तुझे देख लेंगे। इस मामले में जब भाजपा जिला अध्यक्ष राजू बाथम से संपर्क करने का प्रयास किया गया तो उनका कॉल किसी सहायक ने उठाया और बताया कि वे वीसी में व्यस्त हैं।