साहब ! मेने अपनी पंसद से दूसरी शादी की है, मेरे पति को ASI ने थाने में जमकर पीटा है - Shivpuri News

शिवपुरी।
आज पुलिस अधीक्षक के पास अपनी फरियाद लेकर पहुंची एक महिला ने इंदार थाना पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए है। महिला का आरोप है कि पुलिस थाने में उसके पति को अवैध रूप से बंध कर उसके साथ मारपीट की है। जब मेंने इस बात से आपत्ति दर्ज कराई तो मुझे भी गाली गलौच देकर भगा दिया।

जानकारी के अनुसार महिला जगनी कुशवाह निवासी ग्राम पीरोठ ने पुलिस अधीक्षक से शिकायत करते हुए बताया है कि उसकी शादी मेहरवान पुत्र जगनी कुशवाह निवासी ग्राम पीरोड के साथ हिन्दू रीतिरिवाज के अनुसार आज से 10 वर्ष पूर्व हुई थी। पीडिता ने बताया है कि उसका पति उसके साथ विगत 4 वर्षो से मारता पीटता था तथा शराब पीकर डण्डों से पिटाई करता था व घर से भगा देता एवं उसे कई दिनों तक भूखा रखता था। इस कारण प्रार्थिया ने माननीय न्यायालय कोलारस में जाकर संयुक्त शपथपत्र के माध्यम से हृदेश प्रजापति से शादी कर ली है।

इसके बाद प्रार्थिनी के पूर्व पति मेहरवान ने उसकी झूठी रिपोर्ट पुलिस थाना इन्दार में कर दी कि 45000 रूपये मेरी पत्नी व हृदेश भाग गये है। महिला का कहना है कि हम दोनों वालिग है हमारे द्वारा अपनी राजीशुखी से शादी भगवान को साक्षी मानकर की गई है। इसके बाद भी हमें पुलिस थाना इन्दार के ए.एस.आई. लक्ष्मीनारायण शर्मा द्वारा व्यान लेने के बहाने थाने में बुलाकर मेरे पति हृदेश को लॉकअप में कर दिया। तथा उसकी डण्डों से बुरी तरह पिटाई की इसके अलावा मुझसे शर्मा जी ने बोला कि तेरे उपर इसका कितना भूत सवार है और गाली गलौंच करते हुए कहा आजा मैं तेरा इश्क उतार देता हूं।

उक्त ए एस आई द्वारा मेरे साथ अश्लील गाली गलौंच कर अभद्र व्यवहार किया है एवं अब वो मेरे व उक्त हृदेश के उपर झूठा प्रकरण कायम करवाये जाने का दबाव बना रहे है। हृदेश को अभी भी थाना इन्दार में बन्द कर रखा हैं। प्रार्थिया को उसकी ससुराल पक्ष से व पुलिस थाना इन्दार से काफी भय भी बना हुआ है। पीडिता ने पुलिस अधीक्षक से मामले की जांच कर पुलिस कर्मीयों पर कार्यवाही की मांग की।