बाल चोरो ने बिना कट मारे किसान की जेब से किए रूपए पार, चमन सिंधी का रूपयो से भरा बेग 2 सेकेंड में गायब

शिवपुरी। जिले के बैराड़ व अमोला थाना क्षेत्र में मासूम दिखने वाले मास्टर चोरों ने पलक झपकते ही जहां एक किसान की 20 हजार रुपये की जेब काट ली, वहीं एक कपड़ा व्यवसायी का रुपयों से भरा बैग चोरी कर लिया। चोरी की दोनों वारदातों में चोर 60 हजार रूपए चोरी कर ले गए हैं। चोरी की दोनों वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई हैं। पुलिस ने दोनों की मामलों की विवेचना शुरू कर दी है।

जेब के नीचे घुटना लगाकर ऊपर किए नोट और चुरा ले गए बीस हजार

पहली वारदात बैराड़ थानांतर्गत कस्बे में स्थित यूको बैंक की शाखा में घटित हुई, यहां आज दोपहर मासूम से नजर आ रहे एक बच्चे ने ग्रामीण के पेंट की जेब में रखे बीस हजार रूपए चोरी कर लिए। चोरी की वारदात का खुलासा तब हुआ जब किसान ने बैंक में पैसे जमा करने के लिए जेब में हाथ डाला। दरअसल वमनपुर निवासी किसान केदार सोमवार को यूको बैंक के अपने खाते में 20 हजार रुपये लेकर जमा करने गया था।

किसान ने 500-500 के 40 नोट अपने पेंट की आगे वाली जेब में रखे हुए थे। बैंक में घुस कर किसान जब जमा पर्ची भर रहा था तभी वहां दो बच्चे आए और किसान से सट कर खड़े हो गए। एक बच्चे ने बेहद शातिर अंदाज में अपने घुटने की मदद से पेंट की जेब में रखे पैसों को ऊपर किया और जेब में से पैसे लेकर भाग गया। जब उसकी बारी आई तो उसने पैसे जमा करने के लिए पेंट की जेब में हाथ डाला तो उसके होश उड़ गए क्योंकि जेब से पैेसे गायब थे।

किसान ने आसपास पैसों की तलाश करने के बाद बैंक के सीसीटीवी कैमरे चैक करवाए। सीसीटीवी कैमरे में बच्चा पैसे चोरी करने के बाद एक थैले में रख कर पूरे विश्वास के साथ अपने साथी के साथ वहां से निकल गया। घटना के दस मिनट के अंदर किसान ने सीसीटीवी कैमरे में से बच्चे का फोटो अपने मोबाइल में खींचा और थाने पहुंच गया। थाने से दो सिपाही बैंक भेजे गए लेकिन वह सिर्फ आसपास घूमने के बाद खानापूर्ति कर वहां से थाने लौट गए। बताया जा रहा है कि तत्काल तो पुलिस ने न सीसीटीवी कैमरे चैक किए और न ही बच्चों को तलाशने का प्रयास किया।


महज दो सेकंड में चुराया बैग और बाइक से फरार

चोरी की दूसरी वारदात अमोला थानांतर्गत ग्राम सिरसौद में घटित हुई। इस वारदात में एक मासूम चोर, बेहद शातिर अंदाज में अमोला के कपड़ा व्यवसायी चिमन सिंधी का एक बैग चोरी कर ले गया, जिसमें 40 हजार रूपए रखे हुए थे। दरअसल चिमन सिंधी हर सोमवार को करैरा के सिरसौद में दुकानदारों से कपड़े की वसूली करने आता है, इसी क्रम में वह आज भी सिरसौद में वसूली के लिए आया।

उसने दुकानदारों से पैसे की वसूली की और वापिस दतिया जाने के लिए चौराहे पर स्थित नागर मोबाइल शॉप पर बस का इंतजार करने लगा। दुकान पर पहले से चोरी करने के लिए घात बनाकर बैठा एक मासूम बच्चा इस बात का इंतजार करने लगा कि जैसे ही व्यापारी बैग नीचे रखे वह इसे चुरा कर भाग जाए।

व्यापारी चिमन सिंधी ने पानी पीने के लिए बैग काउंटर पर रखा वैसे ही यह बच्चा महज दो से तीन सैकेंड में बैग लेकर दुकान के बाहर तेयारी खड़ी मोटर सायकल पर सवार होकर वहां से भाग गया। व्यापारी ने चोर को पकड़ने का प्रयास किया लेकिन तब तक वह वहां से निकल गया। पूरी घटना दुकान के सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है।