Shivpuri News- समझौता होने के बाद भी जारी रही प्रता​डना:ग्रह लक्ष्मी से 5 लाख की मांग, सपपरिवार पर

शिवपुरी। 5 लाख रूपए नगद दहेज की मांग के लिए प्रताडि़त करने वाले ससुरालीजनों ने विवाहिता को घर से निकाल दिया और वह अपने मायके रहने लगी। बाद में समझौता होने पर वे उसे ले गए। लेकिन विवाहिता के पति, ससुर और जेठ फिर प्रताडि़त करने लगे। जिससे परेशान होकर विवाहिता युवती सविता का भाई मुन्नालाल उसे मायके ले आया।

तब विवाहिता का पति सनी देवतपाल और जेठ शिवराम ने विवाहिता के मायके आकर कहा कि जब तक 5 लाख रूपए लेकर नहीं आओ तब तक घर मत आना। विवाहिता ने अपने भाई के साथ खनियांधाना थाने में आरोपियों के विरूद्ध मामला दर्ज कराया।

25 वर्षीय विवाहिता सविता पत्नी सनी देवतपाल पुत्री स्व. रामदयाल रजक हाल निवासी हरिशंकर पुरम कॉलोनी ग्वालियर ने अपने भाई मुन्नालाल के साथ थाने आकर बताया कि उसके ससुराल वाले उसे दहेज के लिए प्रताडि़त कर रहे हैं। फरियादी सविता के अनुसार उसका विवाह 21 अप्रैल 2016 को तुलसीराम देवतपाल के लड़के सनी के साथ हिंदू रीति रिवाज के साथ हुआ था।

शादी के कुछ समय तक तो ससुराल वालों ने उसे ठीक रखा। लेकिन शादी के एक साल बाद उसे प्रताडि़त करना शुरू कर दिया तथा दहेज में 5 लाख रूपए की मांग करने लगे। जब उनकी मांग की पूर्ति नहीं हुई तो मुझे घर से निकाल दिया। जिससे मैं अपने मायके में आकर रहने लगी।

करीब 4 माह पूर्व मेरी पति, ससुर, जेठ और जेठानी आए और समझौता होने पर मुझे ससुराल ले गए। लेकिन ससुराल में उनकी प्रताडऩा निरंतर जारी रही। 27 फरवरी 2022 को झगड़ा होने पर मेरे भाई मुन्नालाल मुझे ले आए थे। लेकिन 6 मार्च को मेरे पति और जेठ खनियांधाना आए और मुझसे यह कहकर चले गए कि जब तक 5 लाख रूपए लेकर नहीं आओ तब तक ससुराल मत आना।