बदरवास लूट कांड- मास्टरमाइंड के क्रैकमाइंड के कारण पकड़े गए, 1 सेठ जी, 1 सरदार और 3 किरार शामिल, 2 गिरफ्तार

शिवपुरी। बीती 2 फरवरी की रात लगभग 9 बजे हुई बदरवास में 45 लाख रुपए की लूट कांड में पुलिस को बड़ी सफलता मिलने की खबर आ रही हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस ने इस मामले में 5 आरोपियों की पहचान कर ली है,और 2 आरोपियों को उठा लिया और लूट की आधी रकम भी बरामद करते हुए 3 आरोपियों के परिजनों को राउंड अप कर लिया हैं। इस पूरे लूट कांड में लुटेरों का न्यूड वीडियो और फोटो बनाना पुलिस का अहम सुराग बना हैं।

जैसा कि विदित है कि बदरवास में गुरुवार रात कियोस्क संचालक, उसकी पत्नी और दो बच्चों को बंधक बनाकर तीन बदमाश 45 लाख रुपए कैश लूट ले गए। एसबीआई कियोस्क संचालक विजय सिंघल उम्र 40 साल पुत्र हरीचरण सिंघल निवासी एसबीआई के सामने बदरवास से रात 9 से 9:15 बजे के बीच तीन बदमाशों ने 45 लाख रु. कैश लूट लिया। विजय सिंघल के घर में ग्राउंड फ्लोर पर एटीएम लगा है, जबकि वे परिवार सहित फर्स्ट फ्लोर पर रहते हैं।

बदमाशों ने एटीएम में कैश फंसा होने के बहाने कियोस्क संचालक को नीचे बुलाया। गेट खोलते ही कट्‌टा अड़ा दिया, फिर पत्नी पूजा व दो बच्चे हार्दिक व युग सिंघल को बांध दिया। बदमाश कियाेस्क संचालक के घर से 45 लाख कैश, चेन और अंगूठी लूट ली। सीसीटीवी के फुटेज किसी के हाथ न लगे, इसलिए बदमाश हार्ड डिस्क अपने संग ले गए। पुलिस ने मामले में छानबीन शुरू कर दी थी।

भोपाल समाचार की वीडियो खबर में सबसे पहले बदरवास संवाददाता संजीव जाट ने अपने फोनो में पूरी जानकारी पाठकों को अपटेड की थी। इस जानकारी में जो पाठकों पुलिस को चौंकाने वाली बात सामने आई थी कि लुटेरों ने कियोस्क संचालक की पत्नी की न्यूड वीडियो और फोटो लिए थे और वायरल करने की धमकी दी थी। न्यूड वीडियो और फोटो बनाने के कारण पुलिस ने लुटेरों की पहचान चिह्नित कर ली। कियोस्क संचालक विजय सिंघल ने मीडिया और पुलिस को बताया था कि उनकी बोलचाल की भाषा स्थानीय थी।

इसी आधार पर पुलिस ने ऐसे व्यक्तियों का रिकॉर्ड खंगालना शुरू कर दिया था जो न्यूड वीडियो और फोटो के मामले में बदनाम और नाम दर्ज हैं। पुलिस ने इसी ओर काम शुरू कर दिया और बदरवास के एक मोबाइल की दुकान करने वाले सेठ जी को उठा लिया और पूछताछ शुरू कर दी। बताया जा रहा है कि सेठ जी ने लूट की पूरी स्क्रिप्ट उगल दी।

सूत्रों के अनुसार इस लूट के मास्टरमाइंड सेठ जी हैं और इस वारदात को 5 लोगो ने मिलकर अंजाम दिया हैं। इस पूरे काण्ड के मास्टर माइंड बदरवास के एक सेठजी निकले जिन्हें जैन साहब के नाम से जाने जाते हैं 3 धाकड हैं और एक सरदार हैं। सेठ ने वीडियो कॉलिंग कर पूरे खेल को घटना स्थल से मात्र 30 फुट की दूरी से ऑपरेट किया था। न्यूड वीडियो और फोटो बनाने का प्लान भी सेठ जी का था।

इसी प्लान के कारण ही पुलिस सेठ जी के पास पहुंच गई। आज रात लगभग 2 बजे पुलिस ने सेठजी को घर से उठाया और 1 आरोपी को बिजरौनी से उठाया हैं। बाकी 3 आरोपी अशोकनगर के बमोरी के बताए जा रहे हैं,पुलिस ने इनके परिजनो को राउंडअप कर लिया है। लूटी गई रकम की हिस्सा बदरवास से 5 किमी दूर गुलाल मंदिर पर की थी। बताया जा रहा है कि पुलिस ने लूट की रकम को एक घूरे से बरामद किया हैं लुटेरों ने इस रकम को घूरे में गड्ढा खोदकर गाड़ दिया था। पुलिस आज किसी भी समय इस मामले का खुलासा कर सकती हैं।