SDM के रीडर ने ली 5 हजार की रिश्वत: शिकायत वापस नही ली तो युवक की घर में घुसकर मारपीट- Shivpuri News

शिवपुरी। शहर के कोतवाली स्थित कमला गंज में रहने वाले एक युवक के साथ शुक्रवार दोपहर एसडीएम शिवपुरी के रीडर ने पुराने मामले में शिकायत वापस न लेने पर घर में घुसकर मारपीट कर दी। घटना के बाद पीड़ित युवक कोतवाली रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंचा, लेकिन एसडीएम का रीडर होने के कारण पुलिस ने महज अदम चेक की कार्रवाई कर पीड़ित को चलता कर दिया। बताया जा रहा है कि रीडर अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर पहले भी उक्त युवक पर शासकीय कार्य में बाधा का केस दर्ज करा चुका है।

कमलागंज निवासी अजय भोला ने बताया कि कुछ महीने पूर्व मैंने अपनी पत्नी को 10 वीं परीक्षा पास कराने के लिए एसडीएम के रीडर राजेन्द्र चंदोरिया के कहने पर उर्दू बोर्ड से फार्म भरवाया था। रीडर ने मुझसे फार्म फीस के अलावा परीक्षा पास कराने के बदले 5 हजार रुपए रिश्वत के रूप में अलग से मांगे थे, जिसकी रिकॉर्डिंग भी मेरे पास है। मैंने इस मामले में शिकायत दर्ज कराई थी। इस शिकायत को वापस लेने के लिए

बात करने शुक्रवार को दोपहर करीब 2 से 3 बजे के बीच रीडर राजेंद्र चंदेरिया मेरे घर आए और जब मैंने शिकायत लेने से मना कर दिया तो मेरे साथ घर में घुसकर जमकर मारपीट कर दी। मेरे चेहरे व माथे सहित अन्य जगह पर चोट आई है। घटना के बाद मैं मारपीट की रिपोर्ट दर्ज कराने कोतवाली पहुंचा तो रीडर यहां पर मुझसे पहले आ गया और मुझ पर ही मारपीट के आरोप लगाने लगा। पुलिस को मैंने अपने साथ हुई मारपीट की शिकायत की लेकिन पुलिस ने दबाव के चलते एफआईआर न करते हुए केवल अदम चेक काटकर मुझको चलता कर दिया। पीड़ित अजय ने बताया कि रीडर अपने पावर का दुरुपयोग करते हुए कुछ महीनों पहले मेरे खिलाफ 353 धारा की रिपोर्ट दर्ज करा चुका हैं।

इनका कहना हैं
रिपोर्ट दर्ज करा चुका है। युवक के साथ जो घटना हुई है। हम उसमें जांच के बाद उचित कार्रवाई कर रहे है।
सुनील खेमरिया,टीआई सिटी कोतवाली