लिंकअप हैं SBI में CREDIT CARD से लुटेरों का: कार्ड के अधिकृत नंबर पर कॉल किया और आरक्षक के खाते से 1 लाख गायब- Shivpuri News

शिवपुरी। कोई भी बडी कंपनी अपने ग्राहको की सुविधा के लिए कस्टमर केयर नंबर देती हैं ओर इस नंबर को आम बोलचाल की भाषा में टोल फ्री नंबर बोलते हैं। इस नंबर पर जब कस्टमर कॉल करता हैं तो उसकी समस्या का समाधान होता हैं या कंपनी से मिलने वाली सुविधाओं के विषय मे जानकारी मिलती है,लेकिन एक बीमा कंपनी के कस्टमर केयर नंबर पर एक कस्टर ने कॉल किया तो कस्टम को कष्ट मिल गया और उसके खाते से 1 लाख रुपए उड़ गए।

जानकारी के मुताबिक 18वीं‎ बटालियन शिवपुरी में पदस्थ प्रधान‎ आरक्षक कैलाश सिंह सगर ने रिपोर्ट‎ दर्ज कराई है। प्रधान आरक्षक का‎ कहना है कि एसबीआई के क्रेडिट‎ कार्ड पर बिना पूछे इंश्योरेंस सेवा लागू‎ कर दी और हर साल 2499 रु. की‎ राशि काटी जा रही थी। उक्त रकम‎ ‎ को खाते से कटने से रोकने के लिए‎ कुछ दिन पहले कार्ड पर अंकित‎ कस्टमर केयर नंबर 18601801290‎ पर कॉल किया था।

11 दिसंबर 2021‎ की शाम 6:30 बजे उसी कस्टमर‎ केयर से कॉल आया और कार्ड के‎ संबंध में जानकारी ली। अधूरी‎ जानकारी रह जाने के पांच मिनट बाद ‎ ‎ दूसरे नंबर 9139020202 से कॉल‎ आया और पिछले कॉल का हवाला‎ देकर मेरी जानकारी ले ली। मेरे‎ एसबीआई कार्ड से 6:40 बजे एक ही‎ बार में 1 लाख 1 हजार 298 रु. काट ‎ ‎ लिए।‎

तुरंत एसबीआई ब्रांच से कॉल आया, फिर‎ भी राशि वापस नहीं मिल पाई‎ खाते से 1.01 लाख रु. कटने के तुरंत बाद एसबीआई की तरफ से कॉल और‎ पूछा कि यह राशि आपके द्वारा ट्रांसफर की गई है। प्रधान आरक्षक सगर ने कहा‎ कि उनके द्वारा ऐसा कोई ट्रांजेक्शन नहीं किया है। फिर क्रेडिट कार्ड ट्रांजेक्शन‎ पर होल्ड लगा दिया।

एसबीआई की तरफ से कॉल आने के बाद भी 1.01‎ लाख रु. वापस नहीं मिल पाए। साइबर सेल की भी मदद लेने के बाद भी कुछ‎ हल नहीं निकला। शिकायत पर पुलिस ने अब केस दर्ज किया है। उक्त‎ ऑनलाइन फ्रॉड हाउसिंग डॉट कॉम के जरिए होना बताया जा रहा है।

प्रधान‎ आरक्षक सागर ने क्रेडिट कार्ड से इंश्योरेंस राशि कटने से रोकने के लिए कार्ड‎ पर अंकित कस्टमर केयर नंबर पर कॉल लगाया था। उक्त नंबर पर जो बातें‎ बताई थीं, ठग ने दूसरे नंबर से कॉल करके उन्हीं बातों का हवाला दिया। जिससे‎ अनुमान है कि ठगी में एसबीआई क्रेडिट कार्ड से संबंधित कर्मी का हाथ है।‎