प्रभु के माता-पिता की गोद मेवा आदि से भर दी, गोद भराई रस्म में छाया श्रद्धा का उल्लास- Shivpuri News

शिवपुरी। ढोलक की थाप और मंगल गीतों की गूंज से शिवपुरी नगर चहक उठा है। भगवान आदिनाथ के आगमन को लेकर जैन समाज में उल्लास छाने लगा है। प्रभु के माता-पिता की गोद भराई की रस्म को लेकर श्रद्धा का भाव बन गया। श्रद्धालु महिलाओं ने गोद भराई रस्म के दौरान प्रभु के माता-पिता की गोद मेवा आदि से भर दी।

यह अवसर था श्री मज्जिनेंद्र 1008 भगवान आदिनाथ पंचकल्याणक जिनबिम्व प्रतिष्ठा और विश्व कल्याण कामना महायज्ञ से पूर्व धार्मिक आयोजन का। शुक्रवार को शिवपुरी निवासी नरेश जैन- श्रीमती विजय जी जैन (यूटीआई) का आवास मंगल गीतों और ढोलक की थाप से गूंज रहा था। 05 दिसम्बर से होने वाले आयोजन से पहले यहां प्रभु आगमन से पूर्व उनके माता-पिता की गोद भराई रस्म हुई।

शहर के जैन समाज की महिलाओं ने भगवान आदिनाथ के पिता बने नरेश जैन और उनकी पत्‍‌नी विजय जैन की गोद में गोला, बादाम, अखरोट और मखाने गोद में रखे। इससे पहले महिलाओं ने मंगल गीत गाए और नृत्य किया। इस दौरान माता-पिता का साफा और माला पहनाकर, तिलक लगाकर स्वागत किया गया। साथ ही महापात्रों का संम्मान कार्यक्रम भी इस दौरान इनके निवास स्थान पर आयोजित किया गया, जिसमें सकल जैन समाज का भोज भी माता-पिता परिवार की ओर से दिया गया।

5 तारीख को घटयात्रा एवं ध्वजारोहण

पंचकल्याणक कार्यक्रम का शुभारंभ 5 दिसंबर रविवार को घटयात्रा के साथ प्रारंभ होगा। घटयात्रा प्रातः 7:00 स्थानीय श्री पार्श्वनाथ जिनालय, पुरानी शिवपुरी मंदिर से प्रारंभ होकर, छतरी मंदिर जिनालय, माधव चौक, सदर बाजार, श्री चंद्रप्रभु जिनालय निचला बाजार मंदिर, होकर न्यू ब्लॉक होती हुई अयोध्या नगरी (गांधी पार्क मैदान) में पहुंचेगी, जहां ध्वजारोहण पुण्यार्जक परिवार श्री वीरेंद्र कुमार महेंद्र कुमार जैन (पत्ते वालों) द्वारा किया जाएगा।

उसके पश्चात समस्त महिला संगठनों द्वारा परेड के साथ ध्वज को सलामी दी जाएगी। कार्यक्रम में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया जी भी शामिल होंगे, जिनकी स्वीकृति प्राप्त हो गई है। पूरे कार्यक्रम के दौरान हेलीकॉप्टर द्वारा पुष्प वृष्टि भी की जाएगी। रिपोर्ट दिलीप जैन शिवपुरी