गिड़गिड़ाते परिवार से नर्स ने ने कहा, डॉक्टर तुम हो या हम, वेंटीलेटर हटाते ही बच्ची की मौत- Shivpuri News

शिवपुरी मेडिकल कॉलेज में पिछले तीन दिन से भर्ती गूगरीपुरा की रहने वाली 6 साल की बच्ची कामिनी पुत्री राजेश जाटव की इलाज के दौरान मौत हो गई। मृतिका के परिजनों का कहना है कि डॉक्टर ने कामिनी का वेंटीलेटर हटाने के लिए नर्स से मना किया था, बाबजूद इसके नर्स ने वेंटीलेटर हटा दिया, जिसके 5 मिनट बाद ही कामिनी ने हमारी आंखों के सामने दम तोड़ दिया।

हम गिड़गिड़ाते रहे, लेकिन नर्स ने एक नहीं सुनी...

बच्ची के पिता का कहना है कि आज तीन दिन बाद उसकी बेटी ने आंख खोली थीं, उसकी हालत सुधरने लगी थी। डॉक्टर ने उनके सामने नर्स को कहा था कि बच्ची को वेंटिलेटर से न हटाया जाए, इसके बाबजूद नर्स ने बच्ची का वेंटिलेटर हटा दिया। मैंने नर्स को कहा था कि बच्ची का वेंटिलेटर हटाने पर मेरी बेटी मर जाएगी, लेकिन उन्होंने मेरी एक नहीं सुनी। बच्ची को वेंटिलेटर से हटाने के 5 मिनट बाद मेरी बेटी मर गई।

डॉक्टर तुम हो या हम, और हटा दी बच्ची

नानी फूलवती का कहना है कि नर्स कामिनी के मसाज की बात कह रही थी। बकौल फूलवती जब उसने मसाज करने की यह कहते हुए मना किया कि मशीन हिल जाएगी तो नर्स ने उसे यह कहते हुए चुप करा दिया कि डॉक्टर तुम हो या हम....।

मेडिकल कॉलेज अधीक्षक डॉ. केबी वर्मा का कहना है कि मैंने बच्ची के बारे में पता किया है, बच्ची जिला अस्पताल से रैफर होकर आई थी, बच्ची बेहोश थी। हमने तभी कहा था चांस नहीं हैं हम सिर्फ कोशिश कर सकते हैं। हमारे पास पर्याप्त वेंटिलेटर हैं, हम उसे वेंटिलेटर से क्यों हटाएंगे? परिजनों के आरोप निराधार हैं।