बडा खुलासा:मेडीकल कॉलेज में नर्सिग के पद पर पदस्थ रही है हत्यारी नर्स पूनम खान,पढिए नया खुलासा

शिवपुरी। जिले में कन्या भ्रूण हत्या का मामला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। इसमें रोज नए खुलासे जारी है। इसी के चलते आज जो खुलासा हुआ है वह चौकाने बाला है। इस भ्रूण हत्या के मामले का वीडियों बायरल होने बाली नर्स के तार मेडीकल कॉलेज से जुडे हुए है। इसे लेकर आज डिप्टी कलेक्टर शिवांगी अग्रवाल के साथ टीम सिद्धिविनायक चिकित्सालय में पहुंची। जहां पहुंचकर टीम ने जांंच की परंतु इस दौरान उक्त घटनाक्रम को अंजाम देने बाली नर्स पूनम खान इस जांच के दौरान कहीं नजर नहीं आई।

परंतु इसी दौरान एक और नया मामला सामने आया है कि सिद्धिविनायक अस्पताल में जो अल्ट्रासाउण्ड मशीन है उसे मेडीकल कॉलेज के अधीक्षक डॉ केवी वर्मा देखते है। परंतु इस दौरान सामने आया कि इस कन्या भ्रूण हत्या की कर्ता धर्ता पूनम खान के तार मेडीकल कॉलेज से भी जुडे हुए है। बताया जा रहा है कि पूनम खान की सैलरी मेडीकल कॉलेज से भी तय थी। जिसके चलते यहां से इन्हें प्रतिमाह सैलरी जारी की जाती रही है।

इसका मुख्य कारण यह भी है कि डॉ केवी वर्मा जो सिद्धि विनायक अस्पताल में अल्ट्रा साउण्ड का काम संभालते है। जिसके चलते इसे मेडीकल कॉलेज में भी नियुक्ति किया गया हैं। इस पूरे घटनाक्रम के तार अब मेडीकल कॉलेज से भी जुड सकते है। हांलाकि आज जांच करने पहुंचे जांच दल ने अभी तक इस मामले में अपनी और से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। परंतु डॉ केवी वर्मा से जब पूछा गया कि सिद्धि विनायक अस्पताल में ज्ञायनिक डॉ कौन है जो अल्ट्रासाउण्ड की सील लगाकर पर्चा बनाता है तो उन्होंने बताया कि यहां तो सबसे ज्यादा डॉ शैली सेंगर की पर्ची आती है।

सूत्रों की माने तो सिद्धिविनायक अस्पताल में होने बाले अधिकतर अल्ट्रासाउण्ड में डॉ शैली सेंगर के सानिध्य में होते है। जिसके चलते इन्हें भी कार्यवाही से अछूता नहीं रखा जा सकता। अब जहां अल्ट्रासाउण्ड होते है वहां भी जांच की दरकरार है। अगर इन अल्ट्रासाउण्ड के लिए दी गई सभी पर्चीयों की जांच की जाए तो एक बडा तथ्य निकलकर सामने आ सकता है।

इनका कहना है
नर्स पूनम खान हमारे यहां पदस्थ नहीं है। वह कोरोना काल में जरूर हमारे यहां दो माह के लिए पदस्थ रही थी। इसके साथ ही अल्टासाउण्ड तो में स्वयं करता हूं। परंतु जो ज्ञायनिक की बात कर रहे हो वह जो सिद्धिविनायक में अधिकतर डॉ शैली सेंगर ही करती है। इसके साथ ही कभी कभी डॉ नीरजा के भी पैसेंट हमारे पास आते है जिनकी डिलेवरी सिद्धिविनायक में होती तो उनके भी पेसेंट आते है।
डॉ केवी वर्मा, अधीक्षक मेडीकल कॉलेज शिवपुरी