BEO खनियाधाना अकाउंटेंट को आदेश के 28 दिन बाद भी नहीं कर पाए रिलीव- Shivpuri News

शिवपुरी। प्रदेश स्तर से शिक्षा विभाग में नित नए बदलाव लाने के लिए भरसक प्रयास किये जा रहे हैं जिससे कि शिक्षा के स्तर में सुधार किया जा सके लेकिन अगर जमीनी स्तर की बात करे तो शिक्षा विभाग पहले से विवादों के घेरे में रहा है और आज भी शिक्षा विभाग के हालात बद से बदतर है इसका सबसे बड़ा कारण है कि तहसील और जिले स्तर पर बैठे जिम्मेदार शिक्षा के स्तर पर ध्यान न देकर सिर्फ और सिर्फ निजी हित साधने में लगे हुए हैं।

ऐसा ही मामला खनियाधाना के बी ई ओ कार्यालय का हैै यहां पदस्थ सुखनंदन रसगइयाँ लेखा शाखा प्रभारी का ट्रांसफर प्रभारी मंत्री के अनुमोदन उपरांत जिला शिक्षा अधिकारी शिवपुरी ने दिनांक 31.8.21 को पत्र जारी कर इनका ट्रांसफर आदेश जारी किया था जिसमे इन्हें बिकास खण्ड शिक्षा अधिकारी कार्यालय खनियाधाना से पोहरी के लिए ट्रांसफ़र की बात कही गयी थी।

जिसमे उल्लेख था कि यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू किया जाएगा और इनको तुरन्त रिलीव कर पोहरी भेजा जाए लेकिन बी ई ओ खनियाधाना ने जिला शिक्षा अधिकारी का आदेश न मानते हुए आज दिनांक तक इनको रिलीव नही किया अपने जिला स्तरीय अधिकारी के आदेश की अवहेलना का विषय नगर से लेकर जिले तक चर्चा का केंद्र बना हुआ है। सूत्रों की माने तो जिस दिन से आदेश आया है उस दिन से संबंधित बाबू रोज कार्यालय में आकर कार्य कर रहे है।

इनका कहना है
हां यह बात सही है कि ट्रांसफर का आदेश हुआ है लेकिन वो अभी मेडिकल पर हैं मानवता के नाते मैने रिलीव नही किया। मेडिकल खत्म होने के बाद उन्हें रिलीव किया जाएगा।
प्रकाश सूर्यवंशी, बी ई ओ खनियाधाना