सर्वाइकल कैंसर प्रतिरोधी वैक्सीन लगाने से इस रोग बचाव संभव हैं: डॉ. अक्षय निगम - Shivpuri News

शिवपुरी। चिकित्सा महाविद्यालय शिवपुरी में कैंसर रोग एवं स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग द्वारा आयोजित कार्यशाला में मेडीकल ऑफिसर एवं नर्सेस को सर्र्वाइकल कैंसर (बच्चेदानी के मुख का कैंसर) की स्क्रीनिग का अधीक्षक डॉ. के.बी वर्मा, कैंसर रोग विभागाध्यक्ष डॉ. धीरेन्द्र कुमार सचान, प्रसूति एवं स्त्री रोग विभागाध्यक्ष डॉ. शिखा जैन एवं डॉ. शैली सेंगर, डॉ. पंकज शर्मा, डॉ. शम्मी जैन, पीआरओ डॉ. मानबहादुर राजपूत एवं डॉ. नीलम रघुवंशी उपस्थित थे।

कार्यशाला का प्रारंभ करते हुए डीन डॉ. निगम ने बताया कि सर्वाइकल कैंसर एवं ब्रेस्ट कैंसर महिलाओं के दो प्रमुख कैंसर हैं जिनकी स्क्रीनिंग का देशव्यापी प्रोग्राम चलाया जा रहा हैं। उन्होंने बताया कि 9-12 वर्ष की आयु में सर्वाइकल कैंसर प्रतिरोधी वैक्सीन लगाने से इस रोग बचाव संभव हैं किन्तु जागरूकता के अभाव में ऐसा नहीं हो पा रहा हैं।

स्त्री रोग विभागाध्यक्ष डॉ.शिखा जैन ने बताया कि तीस वर्ष से अधिक आयु की सभी महिलाओं की सर्वाइकल कैंसर की स्क्रीनिंग पैप स्पीयर नामक जांच द्वारा की जाती है एवं नॉर्मल आने पर हर 5 साल से इस जांच को किया जाना चाहिए। उन्होंने बताया कि अनियमित रक्तस्राव, जननांग से बदूदार पानी का आना एवं पेट के निचले हिस्से में दर्द होना सर्वाइकल कैंसर के प्रमुख लक्षण हैं।

डॉ. शैली सेंगर ने बताया कि प्री कैंसर स्टेज में यह रोग माइनर प्रोसीजर जैसे की लीप एवं धर्मल एब्लेशन द्वारा पूरी तरह से ठीक किया जा सकता है एवं वर्तमान में यह सुविधा मेडीकल कॉलेज में उपलब्ध हैं। इस विषय में चर्चा करते हुए डॉ. धीरेन्द्र सचान ने बताया कि इस विषय में जागरूकता का अभाव हैं अधिकांश महिलायें शर्म या झिझक के कारण बताती नहीं हैं यह बीमारी बढ़ जाती हैं।