सिंधिया, शहर में घूमकर बाढ़ पीडितों से मिले फिर अधिकारियों की मीटिंग ली - Shivpuri News

शिवपुरी। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया रविवार को शिवपुरी भ्रमण पर आये। उन्होंने राहत एवं बचाव कार्य के संबंध में अधिकारियों से जानकारी ली और निर्देश दिये। इस दौरान पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया, ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, लोक निर्माण विभाग राज्यमंत्री सुरेश धाकड़ राठखेड़ा, कोलारस विधायक वीरेंद्र रघुवंशी, महामंत्री रणवीर रावत, जिलाध्यक्ष राजू बाथम, अन्य जनप्रतिनिधिगण सहित संभागायुक्त आशीष सक्सेना, आईजी अविनाश शर्मा, कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक और विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

केंद्रीय मंत्री श्री सिंधिया ने निर्देश देते हुए कहा कि यह आपदा का समय है। इसलिए सभी अधिकारियों को सक्रिय होकर काम करना है। रेस्क्यू के बाद अब बाढ़ प्रभावित ग्रामों में राहत पहुँचाना है। कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे, उन्हें पका भोजन और राशन की व्यवस्था करें।

डैशबोर्ड तैयार करने के निर्देश

केंद्रीय मंत्री श्री सिंधिया ने डैशबोर्ड तैयार करने के निर्देश दिए हैं। एक डैशबोर्ड जिसमें जलाशयों, नदियों का जलस्तर की जानकारी अपडेट की जाये। मौसम विभाग का अनुमान भी प्रदर्शित किया जाये। एक डैशबोर्ड जिसमें भोजन, पेयजल, विद्युत व्यवस्था की जानकारी तैयार की जाये और एक डैशबोर्ड जिसमें बेघर लोग, जनहानि, पशुहानि, फसल क्षति और रोड, पुल, स्कूल, अस्पताल, आंगनवाड़ी आदि की क्षति की जानकारी तैयार करना है।


स्वास्थ्य शिविर लगाने के निर्देश

केंद्रीय मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रभावित ग्रामों में स्वास्थ्य शिविर लगाने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि जलजनित बीमारियों से लोग ग्रसित न हों इसलिए प्रभावित लगभग 450 ग्रामो में स्वास्थ्य शिविर लगाये। अगले 15 दिन में योजना बनाकर इन ग्रामों में स्वास्थ्य टीम पहुंचे।

विद्युत व्यवस्था सुचारू की जाये

उन्होंने निर्देश दिए हैं कि ग्रामो में विद्युत व्यवस्था सुचारू की जाये। ट्रांसफॉर्मर, सबस्टेशन चैक करके सुधार करें।

पेयजल व्यवस्था

बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों में पेयजल के साधन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा पेयजल व्यवस्था को सुदृढ़ किया जाए। खराब हैंडपंप को सुधारा जाए।

खाद्यान्न वितरण

केंद्रीय मंत्री श्री सिंधिया ने शिवपुरी शहर में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत हितग्राहियों को खाद्यान्न वितरित किया।