हटाए गए मडीखेडा बांध के प्रभारी EE , मैनेज नही कर सके सिंध के सैलाब को

शिवपुरी। मड़ीखेड़ा बांध शिवपुरी के प्रभारी कार्यपालन यंत्री एसके अग्रवाल को हटाकर सहायक यंत्री मनोहर बोराटे को जिम्मेदारी सौंप दी है। प्रमुख अभियंता मदनसिंह डावर ने सोमवार को तबादला आदेश जारी किया है। जारी आदेश के तहत प्रभारी कार्यपालन यंत्री पक्का बांध मड़ीखेड़ा (सहायक यंत्री) एसके अग्रवाल का तबादला बतौर कार्यपालन यंत्री प्रभार में राजघाट बांयी नहर डिस्नेट संभाग खनियाधाना किया है।

जबकि सहायक यंत्री मनोहर बोराटे काे प्रभारी कार्यपालन यंत्री पक्का बांध मड़ीखेड़ा बनाया है। इससे पहले बोराटे राजघाट नहर परियोजना में बतौर मुख्य अभियंता का प्रभार संभाले हुए थे। वहीं मनोहर बोराटे लंबे समय से मड़ीखेड़ा बांध पर सेवाएं देते रहे हैं।

7 अगस्त से बोराटे को मड़ीखेड़ा बांध भेज दिया था। बता दें कि अतिवृष्टि के चलते बांध में इतना अधिक पानी आ गया था कि उसे संभालना मुश्किल हो गया। प्रभारी ईई अग्रवाल ने अमले के साथ 10800 क्यूमेक्स पानी छोड़कर लेवल बनाए रखा, लेकिन इससे बांध के नीचे कई गांव व दतिया जिले में बाढ़ आ गई। विभाग ने इस तबादले को शासकीय कार्य को दृष्टिगत रखते हुए शासन स्तर से नियमित पदस्थापना आदेश के तौर पर प्रशासकीय हित में दर्शाया है।