Shivpuri News- कुपोषण के खिलाफ जंग: गोद लिए हुए बच्चो का अधिकारियों ने जाना हालचाल

शिवपुरी। कुपोषण मुक्त जिला बनाने की दिशा में प्रशासन द्वारा प्रयास शुरू किए गए हैं। कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने अधिकारियों को बच्चों की निगरानी की जिम्मेदारी सौंपी है। उन्होंने विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय और ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों को बच्चों की देखभाल का जिम्मा सौंपा है।

उनसे मिलकर उनके परिजनों से चर्चा करके उचित पोषण की सलाह देने के साथ ही विभिन्न विभागों की योजनाओं की जानकारी भी दी जा रही है। अधिकारियों ने जिन बच्चों को गोद लेकर उनके पोषण और निगरानी की जिम्मेदारी ली है वह बच्चों के घर जाकर उनका हालचाल पूछ रहे हैं।

गत दिवस डिप्टी कलेक्टर शिवांगी अग्रवाल, एसडीएम अरविंद बाजपेई, पशुपालन विभाग के उपसंचालक डॉ तमोरी सहित अन्य अधिकारियों ने बच्चों के घर जाकर उनका हालचाल जाना। उनके खान-पान की जानकारी उनके माता-पिता से ली।

साथ ही उन्हें बताया कि कुपोषण से मुक्ति के लिए बच्चों का पोषण आहार क्या होना चाहिए। बच्चों को समय पर टीके लगे या नहीं आदि की जानकारी लेकर मॉनिटरिंग की जा रही है। उल्लेखनीय है कि जिले में 500 से अधिक सहरिया आदिवासी ग्राम चिन्हित हैं।

अति गंभीर कुपोषण की स्थिति में अधिकांशत सहरिया आदिवासी परिवार के बच्चे हैं इसलिए इन परिवारों को चिन्हित कर बच्चों को कुपोषण की स्थिति से बाहर निकालने का प्रयास किया जा रहा है।