नगर पंचायत गठन से पहले ही घोटाला, पीने के लिए रखी थी पानी की टंकी, शौचालय के करा दिए कनेक्शन - Pohri News

धर्मेन्द्र शर्मा@पोहरी। अभी हाल ही में पोहरी को नगर पंचायत का दर्जा मिला है। यहां अभी पहली बार नगर पंचायत का गठन होना है। उससे पहले ही यहां खुलेआम नगर पंचायत में घोटाले होने लगे है। यहां सबसे पहले भर्ती घोटाला और अब पीने के पानी में भी नगर पंचायत ने घोटाला कर दिया है।

जानकारी के अनुसार पोहरी नगर परिषद की तरफ से 5 टंकी 2500 लीटर की नगर परिषद क्षेत्र की जनता के उपयोग के लिए सार्बजनिक जगह पर लगाने के लिए उपयोग की जानी थी। जिन्हें सार्वजनिक स्थानों पर प्याउ के रूप में उपयोग में लेना था परंतु जब हमारे पोहरी संवाददाता धर्मेंद्र शर्मा ने पोहरी नगर परिषद की हकीकत जानी तो कुछ ओर की सामने निकालकर आया। जो टंकी पीने के पानी के लिये सार्बजनिक जगह पर लगनी थी वह पानी की टंकी तहसील कार्यालय में अंदर लगी हुई हैं।

जहाँ तक इस टंकी में से शौचालय एवं बाथरूम में भी कनेक्शन करवा दिये गये हैं एवं क्षेत्र की जनता एवं दूर दराज से अपने काम को लेकर तहसील पोहरी आती हैं तो पीने के पानी की समस्या का सामना करना पडता है।

एक ओर मामला पानी की टंकी का नगर परिषद क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गाँव खोड़ का भी हैं जहाँ पर 20 दिन पहले पानी की टंकी का कनेक्शन करवा कर रख तो दी थी लेकिन उस दिन ही आधा टेंकर पानी डलवाया था बाकी के दिन ग्रामीणों ने कई बार सूचना देने के बाद भी आज दिनांक तक टेंकर पानी टंकी में नही डलवाया जहा तक कि अब पानी की टंकी को चौपाल सार्बजनिक जगह से उठवाकर पास के मंदिर में रकवा दी हैं।

अब नगर पंचायत में इस तरह के घोटाले वह भी जब जब नगर पंचायत का गठन नहीं हुआ तो यह समझ से परे है। अब देखना यह है कि इस मामले में प्रशासन की और से क्या कार्यवाही की जाती है।