धारा 144 लगाकर पर्यटक स्थल को प्रतिबंधित कर,पर्यटन की सभावना तलाशते कलेक्टर - Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी के पर्यटन स्थलो को लेकर प्रतिदिन खबरे प्रकाशित हो रही हैं। 2 दिन पूर्व जिले के सरकारी पत्रकार ने एक प्रेस नोट भेजा था कि वर्षाकाल में जिले के पर्यटन स्थलो पर आमजन को प्रतिबंधित किया जाता है,तो वही आज कलेक्टर ने पर्यटन की सभावनाओ को लेकर एक बैठक ली हैैं,जिसमें जिले में पर्यटन को बढावा देने की योजना बनाते हुए प्रेस नोट रिलीज किया है।

अब समझ में यह नही आता कि पूरे साल में वर्षाकाल में ही जिले में पर्यटन स्थलो में पर भीड रहती हैं और वर्षाकाल में ही जिले के पर्यटन स्थलो को प्रतिबंधित कर दिया गया हैं। अब ऐसे में पर्यटन जिले में कैसे बडेगा समझ से परे हैै।

फिलहाल वह प्रेस नोट पढिए जो आज सरकारी पत्रकार ने अखवारो के आफिसो में भेजा हैं
शिवपुरी। शिवपुरी जिले में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं। यहां माधव नेशनल पार्क, कई ऐतिहासिक स्थल और जलप्रपात हैं। इन पर्यटक स्थलों का जीर्णोद्धार करके विकसित स्वरूप दिया जाएगा जिससे पर्यटक नगरी कहलाने वाली शिवपुरी को फिर से पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बनाया जा सके। जिले में पर्यटन की संभावनाओं को लेकर शनिवार को सेलिंग क्लब में बैठक आयोजित की गई।

बैठक में सीसीएफ श्री डीके पालीवाल, कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री राजेश सिंह चंदेल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एचपी वर्मा, अपर कलेक्टर श्री उमेश शुक्ला, डीएफओ श्रीमती मीना मिश्रा, सहायक कलेक्टर काजल जावला, मध्य प्रदेश सहकारी पर्यटन संघ के अध्यक्ष अरविंद सिंह तोमर सहित अन्य अधिकारी एवं समाजसेवी उपस्थित थे। बैठक में विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा करते हुए सभी से सुझाव भी लिए गए।

उल्लेखनीय है कि पर्यटन संवर्धन योजना के तहत जिले से प्रस्ताव तैयार कर भेजा जाएगा। इसके तहत जिले में कई गतिविधियां प्लान की गई हैं। उपलब्ध संसाधनों का उपयोग करते हुए किस प्रकार पर्यटक स्थलों को और आकर्षक बनाया जाए इसके लिए योजना बनाई जा रही है। सहायक कलेक्टर श्रीमती काजल जावला ने प्रेजेंटेशन के माध्यम से जानकारी दी और बताया कि वेलकम सेंटर को केंद्र बनाकर टूरिस्ट को जानकारी दी जाएगी।

इस योजना के तहत वनडे सर्किट पर फोकस किया जा रहा है जिसमें शिवपुरी आने वाले पर्यटकों को माधव नेशनल पार्क के अलावा भदैया कुंड, बाढ़ गंगा, छत्री स्थल, पुरातत्व संग्रहालय देखने का अवसर मिलेगा। इन स्थलों को उनका ऐतिहासिक स्वरूप बनाए रखते हुए जीर्णोद्धार कराया जाएगा। इसके अलावा इको टूरिस्ट विलेज भी चिन्हित किया जा रहा है।

बैठक में कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह ने कहा कि विभिन्न गतिविधियों के तहत अलग-अलग ग्रुप को चिन्हित कर नेशनल पार्क और अन्य स्थलों का भ्रमण कराया जाएगा ताकि लोगों को विभिन्न स्थलों के बारे में जानकारी दी जा सके।

उन्होंने कहा कि अभी हमें शिवपुरी के पर्यटन को विकसित करने के लिए अधिक प्रचार प्रसार करना होगा। साथ ही उपलब्ध संसाधनों के साथ और जन सहयोग से इन स्थलों को आकर्षक बनाना होगा ताकि पर्यटको की रुझान बढ़े।