कोरोना को लेकर शिवपुरी में अंधविश्वास प्रारंभ, हवन, गोबर स्नान के साथ अन्य टोटके शुरू - Shivpuri News

शिवपुरी। कोरोना को हराने के लिए अब आमजन दवा के अलावा टोटकों का सहारा भी लेते नजर आ रहे हैं। कहीं गोबर से स्नान किया जा रहा है तो कहीं हवन किया जा रहा है तो कहीं ऊ का जाप और कहीं राम नाम धुन का सहारा लिया जा रहा है। कोरोना एक वायरस है जिसे टोटकों से नहीं दो गज दूरी और मास्क सहित सही समय पर उपचार से ही भगाया जा सकता है। लेकिन आज के इस वैज्ञानिक युग में भी लोग टोटकों का सहारा लेते नजर आ रहे हैं।

पोहरी में किया गया हवन

पोहरी में आज बजरंग दल के आव्हान पर हवन किया गया और यह हवन नीम से किया गया जिससे कि हवा शुद्ध हो और उसमें वायरस न रहे लेकिन इन टोटकों के चलते सुरक्षित दूरी के नियमों का उल्लंघन हो रहा है और ऐसे आयोजनों में भीड जुट रही है जो कोरोना को आमद दे रही है।

यूपी में किया गोबर से स्नान

उत्तरप्रदेश के कई इलाकों में तो अंधविश्वास की हद ही हो गई। लोगों ने गोबर से स्नान तक कर डाला। इतना ही नहीं यहां कई इलाकों में हवन कर हवन सामग्री को कालोनियों में बाल्टियों में भरकर ले जाया गया और उसका धुंआ कालोनियों में फैलाया गया जिससे वायु शुद्ध हो।

नीम के पेड पर भी टोटके

गांवों में कई लोग इस महामारी के चलते परेशान हैं ऐसे में कई लोगों ने नीम के पेड के पास जाकर पूजा अर्चना तक कर डाली। ऐसे में कई महिलाएं बिना मास्क के ही यहां पहुंच गई और पूजा पाठ करते नजर आईं।

ऊँ की ध्वनि और राम धुन का जाप

इतना ही नहीं अंधविश्वास के चलते लोगों को एक साथ ऊं और रामनाम की धुन का पाठ करने को भी कहा गया है। यह भारत देश है यहां आज भी लोग दवा और इलाज से ज्यादा अंधविश्वास पर जोर देते नजर आते हैं।