अपनी जान की परवाह किए बिना कोरोना से ढाल बनकर सामना कर रहा यह युवा - Shivpuri News

शिवपुरी। जिले में कोरोना अपने पूरे चरम पर है। जब किसी के घर कोई खास रिश्तेदार भी आ रहा है तो उसे भी आज शिवपुरी में शक की निगाहों से देख रहे है। हालात यह है कि जिले में कोरोना के चलते लोगों ने अपने घरों से बाहर निकलना पूरी तरह से बंद कर दिया है। इसी बीच एक व्यक्ति ऐसा भी है जो अपनी परवाह छोडकर कोरोना के बीच अपनी जान जोखिम में डालकर कोरोना पॉजीटिव मरीजों की सेवा में जी जान से जुटा है।

उस व्यक्ति का नाम है रानू रघुवंशी। रानू रघुवंशी मूलत कोलारस क्षेत्र के निवासी है जो बीते लंबे समय से हरिजन थाने के पास निवास कर रहे है। आज कोरोना काल में जब लोग अपनों के लिए हाथ खींच रहे है यह युवा मेडीकल कॉलेज में टेंट लगाकर लोगों की सेवा करने में लगा है और वह सेवा भी पूरी तरह से निशुल्क।

जी!हा रानू रघुवंशी मेडीकल कॉलेज शिवपुरी में भर्ती मरीजों उनके अटेंडरों को पानी चाय सहित भोजन की व्यवस्था कर रहा है। इसके लिए वह विधिवत कूपन बांटते है। उसके बाद कूपन के आधार पर कोरोना पॉजीटिव मरीजों और उनके अटैडरों को भोजन पानी और चाय की व्यवस्था कर रहे है।

इस कोरोना काल में जब कोई अपना लोगों के साथ खडा होने से कतरा रहा है तब यह युवा उनके साथ खडा है। रानू रघुवंशी राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का स्वयं सेवक होने के साथ साथ शहर के लिए एक वडा नाम है। इस युवा के साथ शहर के लगभग 1 हजार युवा तैयार खडे है।

इससे पहले भी युवा रानू रघुवंशी ने पिछले बर्ष कोरोना काल में पूरे शहर को सेनेटाईज किया था। सेनेटाईज के दौरान उन्होंने लोगों के दिलों में अपनी अलग जगह बनाई। एक ही दिल है इसे कितनी बार जीतोगें रानू रघुवंशी आज शिवपुरी समाचार डॉट कॉम इस रियल कोरोना फाईटर को दिल से सल्यूट करता है।