CM ने कहा: जिले में कोरोना की जांच की संख्या हर हाल में बढाएं - Shivpuri News

शिवपुरी। पहले की तुलना में जिले में कोरोना संक्रमण घटा है, लेकिन अन्य जिलों की तुलना में अभी भी शिवपुरी के हालात बहुत अच्छे नहीं है। ऐसे में जिले के विभिन्न गांव में, शहरी क्षेत्र के वार्डों में, अब क्राइसिस समूह के सदस्यों को साथ लेकर लोगों को जोड़ना होगा। जब तक कोरोना संक्रमण से निपटने जन भागीदारी नहीं होगी तब तक पूरी तरह से कोरोना को हम नहीं हरा पाएंगे। इसलिए सख्ती के साथ-साथ जागरूकता की आवश्यक है।

यह बात प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एनआईसी कक्ष में जिले के अधिकारियों और क्राइसिस समूह के सदस्यों से बातचीत के दौरान कही।
उन्होंने कहा कि जिन्होंने कड़ाई से पालन किया वहां पर संक्रमण रुका है। और जहां कढ़ाई में थोड़ी ढील रही वहां हालात चिंताजनक है। ऐसे में हमें ढिलाई नहीं कड़ाई बरतने की जरूरत है। अभी जो टेस्ट किए जा रहे हैं उनकी संख्या हर हाल में बढ़ाई जाए ताकि यह पहचान हो सके कि कोरोना के कितने मरीज है।


यह संक्रमण और अधिक ना फैले इसलिए टेस्ट के जरिए पड़ताल होनी चाहिए। उन्होंने कलेक्टर को निर्देश दिए कि वह संक्रमण की चेन तोड़ने अर्थात कोरोना कर्फ़्यू का कड़ाई से पालन करें । संक्रमितों की पहचान करें। टेस्ट संख्या बढ़ाए,लोगों का इलाज करें और टीकाकरण की सटीक नीति ऐसी हो कि लोग इसके लिए सहज रूप से आगे आएं। क्राइसिस समूह के सदस्य भी ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर लोगों को समझाइश दें।ताकि अधिक टीकाकरण हो सके, और लोग कोरोना के प्रति जागरूक भी हो सके।

ग्रामीण क्षेत्रों मे नीम हकीम से जांच ना कराने की बात उन्होंने कही। साथ ही पेयजल संकट निवारण के लिए भी विधायक, सांसद, जनप्रतिनिधि और अधिकारियों को नियुक्त कर गांव की समस्या पानी की जल्द निपटे यह निर्देश दिए। दवाइयों की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई और जन जागरण अभियान चलाने के लिए महिलाओँ को जोड़ने की भी उन्होंने बात कही।

एनआईसी कक्ष में कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह एसपी राजेश सिंह चंदेल जिला पंचायत सीईओ एसपी वर्मा एडीएम उमेश शुक्ला महिला बाल विकास अधिकारी देवेंद्र सुंद्रियाल सीएमएचओ डॉ अनिल शर्मा क्राइसिस समूह के सदस्य उपस्थित थे।