लोगों के जहन में सवाल! 1 जून से क्या क्या होगा अनलॉक ? - Shivpuri News

शिवपुरी। 1 जून से कई जिलो में अनलॉक की प्रक्रिया को अपनाया जाएगा। ऐसे में अनलॉक में क्या खुलेगा क्या नहीं इसे लेकर लोगों के मन में कई तरह के सवाल है। क्या किराना बाजार पूरा खुलेगा क्या हलवाई की दुकानें पूरी तरह से खुल पाएंगी क्या रेस्टोरेंट शुरू होंगे। यह कई तरह के सवाल है जो लोगों के मन में हैं।

कारोबार को लेकर भी चिंता में कारोबारी

दो माह के लॉकडाउन से कपडा, जूता, कास्मेटिक, बेकरी, रेस्टोरेंट, हलवाई सहित अन्य कारोबार पूरी तरह से बंद है जिससे इनका कारोबार करने वाले कारोबारियों केा लाखों रूपए का नुकसान उठाना पडा है। कारोबारियों का कहना है कि अब तो बाजार को खोल देना चाहिए जिससे लोग अपनी रोजी रोटी कमा सकें।

मिठाई का कारोबार पूरी तरह से चौपट

शहर में एक सैकडा से अधिक मिठाई की दुकानें जहां पर काम करने वाले करीगरों को भी रोजगार मिलता था लेकिन दो माह के लॉकडाउन से मिठाई कारोबारी सहित उनके यहां काम करने वाले नौकर तक बेरोजगार बैठे हैं। ऐसे में मिठाई कारोबारियों का कहना है कि उनका कारोबार जल्द खोला जाए।

रेस्टोंरेंटों पर ताले, परेशान होते लोग

शहर में कई लोग बाहर से काम करने आए है ऐसे में वे लोग रेस्टोरेंट या फिर टिफिन सेंटर के भरोसे हैं। ऐसे लोगों को सबसे ज्यादा परेशानी इन दो माह के भीतर हुई है। इनका कहना है कि हमें खाना बनाना आता नहीं हैं ऐसे में रेस्टोरेंट खोले जाएं जिससे दो वक्त का खाना तो मिल सकेगा।

100 लोगों का था टिफिन सेंटर अब बचे 10

रामवती ने टिफिन सेंटर खोला था और उसके यहां 100 टिफिन बंधे हुए थे लेकिन लॉकडाउन के चलते कई लोग अपने घरों को वापस लौट गए ऐसे में अब उसके पास 10 टिफिन ही बचे हैं जिन्हें वह दो वक्त का खाना दे रही हैं। उनका कहना है कि 10 टिफिन में उन्हें बिलकुल भी बचत नहीं हो रही है।

हेयर सेलून खोले जाएं

इधर कटिंग का काम कर अपने परिवार की आजीविका चलाने वाले हेयर कटिंग सेलून संचालकों का कहना है कि दो माह से उनके सैलून बंद हैं ऐसे में अब उनके सामने परिवार की रोजी रोटी का संकट खडा हो गया है ऐसे में सैलून भी जल्द खोले जाएं।

मॉल टाकीज बंद, हवाई यात्रा शुरू

मंत्री मंडल की बैठक में यह तय हुआ है कि मॉल और टाकीज बंद रहेंगी जबकि हवाई याऋा चालू की जाएगी।

मंदिर में पुजारी सहित 2, शादी में 20-20

मंदिर में पुजारी सहित दो अन्य लोग दर्शन कर सकेंगे जबकि शादी में लडका और लडकी पक्ष के 20 20 लोग शामिल होंगे जबकि तेरहवी में 20 और अंतिम याऋा में 20 लोग ही शामिल होंगे। इतना ही नहीं बार्डर पर पुलिस तैनात रहेगी और हर आने जाने वालों पर नजर रखी जाएगी।

राजनीतिक और धार्मिक गतिविधि बंद

1 जून होने वाले अनलॉक में राजनीतिक और धार्मिक गतिविधि पूरी तरह से बंद होगी। इतना ही नहीं किसी तरह के भंडारे या भागवत व गीता या अन्य धार्मिक आयोजन भी नहीं किए जा सकेंगे।