रोक के बाद भी कर रहे थे नााबलिग सगी बहनों की शादी, टीम ने रुकवाई - Pohri News

पोहरी। खबर जिले के पोहरी विधानसभा के गा्रम बछौरा से आ रही है जहां प्रशासन ने चाईल्ड लाईन नंबर 1098 पर मिली सूचना पर 2 नाबालिक कन्याओ का विवाह रूकवाया। बताया जा रहा हैं कि परिजन 30 अप्रैल को इन दोनो कन्याओ को विवाह चोरी छुपे करने की तैयारी कर रहे थे,लेकिन विवाह से पूर्व सूचना पर प्रशासन की टीम पहुंच गई।

जानकारी के अनुसार पोहरी के बछौरा गांव में जाटव समाज की 2 सगी बहनो की शादी की तैयारी चल रही थी,बताया जा रहा हैं कि इन दोनो सगी बहनो की शादी 30 अप्रैल को होना थी। परिजनो इस शादी की तैयारी चोरी छुपे कर रहे थे,लेकिन किसी ने इस शादी की सूचना चाईल्ड लाईन नंबर 1098 पर कर दी।

इस सूचना पर्र प्रशासन सक्रिय हुआ और सूचना के आधार पर एसडीएम के निर्देशन में टीम का गठन किया गया। जिसमें महिला बाल विकास परियोजना अधिकारी नीरज सिंह गुर्जर,तहसीलदार सतेंद्र सिंह गुर्जर, नायब तहसीलदार आर.के जोशी,थाना पोहरी के संयुक्त दल ने गांव में पहुंचे।


टीम ने गांव में पहुंचकर जांच करने पर पाया कि जिन दो सगी बहनों के विवाह की तैयारियां हो रहीं थी उनमें एक लड़की 15 वर्ष की एवं एक 17 वर्ष की थी। उम्र कम होने पर प्रशासनिक टीम ने परिवारजनों को उनका बाल विवाह न करने की समझाइश दी,जिस पर वे सहमत हुए और 30 अप्रैल को होने जा रहे बाल विवाह को न करने का लिखित वचनपत्र दिया।

इस खबर से यह भी सिद्ध हो गया कि प्रशासन ने भले ही 28 अप्रैल के बाद की होने वाली शादीयो पर रोक लगा दी और दी गई परिमिशन को शून्य भी कर दिया लेकिन ग्रामीण क्षेत्रो में शादियां नही रूक रही हैं और यह उदाहरण प्रशासन के सामने आया हैं।

प्रशासन को अब होनी वाली शादियो पर भी नजर रखनी होगी,नही तो कोरोना को रोकेने के लिए प्रशासन जितने भी कदम उठा रहा हैं वह सब नाकामी होंगें,क्यो की वैसे तो जिले मे संक्रमण ने पैर पसार लिए हैं अगर ऐसे शादी होगी तो संक्रमण का खतरा और अधिक बढ जाऐगा,जो जिले के हित में नही होगा।