कोरोना से लडने के लिए चालू होगा ऑक्सीजन प्लांट, प्रति मिनट में 400 लीटर ऑक्सीजन - Shivpuri News

शिवपुरी। कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही जिला अस्पताल शिवपुरी में ऑक्सीजन प्लांट चालू करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। ऑक्सीजन प्लांट चालू कराने के लिए खुद कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह को मैदान में आना पड़ा है। दिल्ली से मैकेनिकल इंजीनियर जिला अस्पताल शिवपुरी पहुंच गया है। गुरुवार को इंस्टॉलेशन का काम शुरू कर दिया है।

ऑक्सीजन प्लांट एक सप्ताह में चालू होने की बात कही जा रही है। लेकिन पांच दिन में ही ऑक्सीजन मिलने की उम्मीद है। इसी के साथ अब बाहर से ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

जानकारी के अनुसार पिछले साल अगस्त-सितंबर में कोरोना मरीज बढ़ने से ऑक्सीजन सिलेंडरों की कमी आ गई थी। इसलिए सरकार ने शिवपुरी जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की मंजूरी दे दी और दो माह पहले मशीनें भी भिजवा दी थीं।

सबकुछ ठीक ठाक होने के बाद भी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी प्लांट चालू नहीं करा पाए। मामले में कलेक्टर को हस्ताक्षेप करना पड़ा और गुरुवार को मैकेनिकल इंजीनियर शिवपुरी बुलवा लिया। अब प्लांट चालू करने की प्रक्रिया चालू हो गई है।

हर मिनट में 400 लीटर ऑक्सीजन बनाने की क्षमता

ऑक्सीजन प्लांट से प्रति मिनट 400 लीटर ऑक्सीजन बनेगी, जिससे 95 सिलेंडर भरे जा सकेंगे। बता दें कि कोरोना मरीजों की संख्या बढ़े तब हर दिन 100 से लेकर 120 सिलेंडरों की खपत होने लगी थी। एक सिलेंडर की कीमत 320 रु. है।

वर्तमान में ऑक्सीजन के 30 से 40 सिलेंडर खपत है। जिला अस्पताल प्रबंधक हर महीने 3 से 4 लाख रुपए ऑक्सीजन सिलेंडर खरीद रहा है। इसके बाद पैसे की बचत होगी।

एक सप्ताह में ऑक्सीजन प्लांट चालू हो जाएगा

मैकेनिकल इंजीनियर को बुलवाकर ऑक्सीजन प्लांट चालू करा दे हैं। इसके बाद दूसरा इंजीनियर आकर प्लांट चालू करेगा। लगभग एक सप्ताह में प्लांट चालू हो जाएगा। ऑक्सीजन प्लांट जल्द शुरू कराने की कोशिश कर रहे हैं। अक्षय कुमार सिंह, कलेक्टर शिवपुरी