गर्मी की आहट से ही टूटने लगी हैं नलकूपों की सांसे,शहर के आधे नलकूंपो के सूखे कंठ - Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी शहर में पानी की सप्लाई नलकूपों से होती है। ऐसे में कई इलाकों में मार्च माह में ही जलसंकट गहराने लगा है और लोगों को पानी की किल्लत का सामना करना पड रहा है। लोगों का कहना है कि नलकूप डोरे जैसा पानी दे रहे हैं जिससे एक कटटी 20 से 25 मिनिट में भरती है। मडीखेडा योजना तो बनी लेकिन अब तक घर घर कनेक्शन का काम भी कछुआ गति से चल रहा है जिससे योजना का लाभ शहरवासियों को नहीं मिल पा रहा है।

450 नलकूपों में से 200 ने पानी देना किया बंद

शहर में 450 से अधिक नलकूप हैं जिनसे कई इलाकों में पानी की सप्लाई की जाती हैं लेकिन इस बार बारिश कम होने से 200 से अधिक नलकूपों ने पानी देना बदं कर दिया है जिससे लोगों के सामने जलसंकट खडा हो गया है।

150 नलकूप दे रहे रूक रूककर पानी

शहर के नलकूपों की बात करें तो 150 से अधिक नलकूप ऐसे हैं जिनमें से रूक रूककर पानी आ रहा है और यह नलकूप एक दो कटटी पानी देते हैं और उसके बाद इनसे पानी आना बंद हो जाता है जिसके बाद कुछ देर इन्हें बंद कर फिर से पानी लिया जा रहा है।

मडीखेडा की नियमित नहीं सप्लाई

मडीखेडा की सप्लाई भी नियमित न होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड रहा है। लोगों का कहना है कि कई बार तो लगातार पानी आता है और कई बार दो से तीन दिन के अंतराल से पानी आ रहा है ऐसे में पानी की किल्लत मार्च से ही शुरू हो गई है।