Pichhore SDM के बाबू पर इंद्राज दुरुस्ती के नाम पर 40 हजार रुपए की रिश्वत लेने का आरोप

पिछोर। पिछोर अनुविभाग के सरकारी दफ्तरों में हो रहा भष्टाचार इन दिनों जनचर्चा बना हुआ है। एसडीएम को भ्रष्टाचार पर शीघ्र अंकुश लगाने संबंधित कार्यालयों का निरीक्षण कर कार्रवाई की जद में लेना चाहिए। ऐसा ही एक मामला सामने आया है। इसमें फरियादी शिवलाल उर्फ पप्पू पुत्र दुर्जना जाटव निवासी ग्राम मुड़िया ग्राम रही ने आरोप लगाया है कि एसडीएम कार्यालय में पदस्थ बाबू रूपेश जैन ने भूमि इंद्राज दुरुस्ती के एवज में मुझसे 40 हजार हजार लिए हैं।

इसमें भृत्य बृजेश भरदेलिया के समक्ष देना बताया है। पैसे देने के बाद भी काम नहीं हुआ तब पैसे वापस मांगने गया तो बाबूजी ने गाली-गलौंज कर मारपीट करने की बात कही है। मामले की लिखित शिकायत थाना पिछोर में भी की गई।

फरियादी ने इस बाबू के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है। घटना के संबंध में रीडर रूपेश जैन ने बताया कि मुझ पर लगाया गया आरोप गलत है। मेरे द्वारा किसी से कोई लेन-देन नहीं किया गया है।