सेवानिवृत्त CEO के निधन के बाद भी निकालते रहे पेंशन, लगाया सवा लाख का चूना - Pohri News

पोहरी। जिले के पोहरी थाना क्षेत्रान्तर्गत आने बाले लाल कोठी का है जहां लालकोठी निवासी शारदा शंकर दीक्षित सहकारिता विभाग मैं कार्यरत थे। गत 14 नवंबर को उनका स्वर्गवास हो गया। परंतु उनकी पेंशन खाते मैं आती रही। जिसको उनके पोते शिवम दीक्षित ने बिना बैंक और विभाग को सूचना दिए एटीएम एवं चेकबुक का गलत उपयोग कर आहरण कर ली।

उनकी मृत्यु की सूचना से न तो बैंक को अवगत कराया गया न ही सहकारिता विभाग को। चार महीने के अंतराल मैं लगभग सबा लाख रुपये की राशि का जालसाजी कर शासन को चुना लगाया गया है। मामला पोहरी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया व पुलिस की सूचना मैं है।

जहाँ जिला पेंशन अधिकारी ने भी इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए है। पेंशन राशि व खाते का दुरूपयोग को लेकर पोहरी पुलिस थाना में शिकायतकर्ता शुभम द्वारा आबेदन पत्र सौंपा गया है।

ये है पूरा मामला-
पोहरी निवासी रिटायर्ड सीईओ शारदा शंकर दीक्षित विगत 29 वर्षो से पेंशन भोगी के रूप में अपने ग्रह स्थल पर निवास कर रहे थे लम्बी बीमारी के चलते आने-जाने में परेशानी हो रही थी जिसके चलते उनके पेंशन का आहरण उनका नाती शिवम दीक्षित पुत्र सुमन शंकर दीक्षित द्वारा किया जा रहा था।

जहां विगत 14 नबम्बर 2020 को रिटायर्ड सीईओ शारदा शंकर दीक्षित की मौत हो गई थी जिसके बाद परिजनों ने उनके खाते पर होल्ड न लगवाते हुए लगातार 4 माह तक खाता क्रमांक 53036228965 से एटीएम ब चैक बुक से 124344 रुपये आहरण कर लिए ओर बैंक सहित विभाग को सूचित तक नहीं किया गया। जहां प्रतिमाह उनके खाते में 29318 रु के पेंशन के रूप में आती रही। ऐसे में शासन को चूना लगाने के बाद भी बैक प्रबंधन कार्यवाही करने से पल्ला झाड़ता नजर आ रहा है।

बैंक प्रबंधन पेंशन अधिकारी सहित पुलिस प्रसाशन को सौंपा आवेदन

पोहरी में रिटायर्ड सीईओ के खाते से म्रत्यु उपरान्त पैसा निकालने को लेकर शिकायतकर्ता शुभम दीक्षित द्वारा पोहरी एसबीआई बैंक प्रबंधन,जिला पेंशन अधिकारी सहित पोहरी थाना में आवेदन सोपा ओर कार्यवाही की मांग की है लेकिन इस पूरे मामले में बैंक प्रबंधन की संलिप्तता नजर आ रही है जो कार्यवाही के नाम पर आबेदन कर्ता को लगातार गुमराह करते नजर आ रहे है। ऐसें में आबेदन कर्ता न्यायलय का सहारा लेने की जुगात में है।

इनका कहना है कि
शुभम दीक्षित पोहरी शिकायतकर्ता- मेरे दादाजी के खाते से मृत्यु उपरांत मेरे ताऊ के लड़के द्वारा बिना बैंक को सूचित करें पेंशन के 124344 रु निकाल लिए। जिसकी शिकायत सभी जगह की गई लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नही की गई।