लूट विभाग के लूटेरे SDO का कारनामा, बिल रााशि की नगदी की जगह जमा करा दिया अपना चैक, चैक बाउंस हो गया - Shivpuri News

शिवपुरी
। मप्र शासन से जनता को लूटने का मान्यता प्राप्त विभाग बिजली विभाग जिसे लूट विभाग कहा जाता हैं,विभाग मे पदस्थ एसडीओ ने एक बिल धारक को तो चूना लगा दिया साथ में अपने ही बिभाग के साथ धोखाधडी भी कर दी। अब इस लूटेरो एसडीओ के चक्कर में बिल धारक परेशान हो रहा हैं। वही आज बिल धारक को इस काण्ड का पता चला तो वह एसडीओ पर 420 दर्ज कराने का तैयारी कर रहा हैं।

जानकारी के अनुसार शहर के धर्मशाला रोड पर रहने वाले एक टाईल्स कारोबारी का रामप्रसाद लालचंद का बिजली का बिल 67 हजार 90 रूपए आया था जिसे यहां पदस्थ रहे तत्कालीन एसडीओ दिनेश कटारे ने कम कर 50 हजार रूपए कर दिया था जिसके बाद कारोबारी ने 50 हजार रूपए नगद कटारे को दिए।

कटारे ने कुछ पैसा तो नगदी बिल में जमा कर दिया। लेकिन यहां एक चैक कटारे ने खुद के खाते का दिया जो बाउंस हो गया और कारोबारी के बिल में पैसा जमा नहीं हो पाया और वह आज भी कंपनी के कार्यालय के चक्कर लगाने को मजबूर है।

इस तरह दिया घोटाले को अंजाम

कारोबारी ने 5 जनवरी 2019 को कटारे को 50 हजार रूपए नगद दिए लेकिन कटारे ने 25 हजार तो नगद जमा कर दिए लेकिन 25 हजार का चैक अपने लाइनमैन का एक चैक 25 हजार रूपए का कंपनी के खाते में लगा दिया लेकिन वह चैक बाउंस हो गया। जिससे कारोबारी का पूरा बिल जमा नहीं हो सका।

पहले भी लगा चुके हैं लोगों को चूना

बिजली कंपनी द्वारा लोगों को चूना लगाने का यह कोई पहला मामला नहीं है। इसके पहले भी कंपनी द्वारा कई लोगों को चूना लगाया गया है। विवेकानंद कालोनी में रहने वाले एक युवक को लाखो रूपए का बिल कंपनी ने थमाया था जिसके बाद उसका बिल सही किया गया था।

मनमाने बिल से भी लोग परेशान

कंपनी भले ही लोगों को बिल सही देने का दंभ भरे लेकिन अब भी लोगों को बिना रीडिंग के ही बिल थमाए जा रहे हैं।

यह बोले जिम्मेदार

जिस तरह से एसडीओ ने कंपनी का पैसा जमा नहीं कराया है और उपभोक्ता को चूना लगाया है तो यह गंभीर मामला है। हम इसकी जांच करा रहे हैं।
जेएम श्रीवास्तव